ALL जनसंदेश एक्सक्लूसिव वाराणसी-चंदौली पूूर्वांचल इलाहाबाद लखनऊ कानपुर-गोरखपुर आगरा देश-विदेश सृजन मनोरंजन/लाइफस्टाइल
यूपी की कई टीमों ने मिलकर पागल हाथी पर पाया काबू, एक की ले चुका था, जान, धरासाई कर चुका था दर्जनों शौचालय और मकान
August 18, 2020 • रामसेवक प्रजापति • आगरा



जनसंदेश न्यूज़
उतराव/प्रयागराज। उतराव क्षेत्र की सदरेपुर सराय इस्माइल गांव में पिछले तीन दिनों से एक पागल हाथी ने कई गांवो में अपने आतंक का माहौल बना रखा था। मंगलवार को प्रदेश की कई टीमो ने किसी तरह पागल हाथी पर काबू पाया। जिससे आस पास के गांव के लोगों ने राहत की साँस ली। 

बता दे कि पिछले रविवार को उक्त गांव निवासी पन्नालाल हरिजन उम्र 65 वर्ष जो राजगीरी का काम कर अपने परिवार का भरण पोषण करता था। रविवार दोपहर लगभग 2 बजे पागल हाथी के शिकंजे में वृद्ध पन्ना लाल आ गया पागल हाथी ने वृद्ध को गंभीर रूप से घायल कर दिया। ग्रामीणों ने किसी तरीके जान बचाकर बृद्ध को इलाज के लिए एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया। जहां इलाज के दौरान वृद्ध की मौत हो गई थी। 

सूचना पर पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया था। इतना ही नहीं पागल हाथी ने उक्त गांव के तीन मकान व दर्जनों शौचालय धरासाई कर लोगों की नींद हराम कर दिया था। सूचना पर पहुंचे उपजिलाधिकारी व वन विभाग के अधिकारियों समेत उतरांव थानाध्यक्ष चंद्र भूषण मौर्य अपनी टीम के साथ मौके पर पहुंच गए। जहां हाथी पर काबू पाने के लिए कई शिकंजे अपनाने लगे। हाथी को कब्जे में नहीं लिया जा सका। 

पुलिस प्रशासन व वन विभाग के अधिकारी लगातार हाथी को अपने कब्जे में लेने के लिए काफी मशक्कत की, लेकिन पागल हाथी पर काबू नहीं आ सका। मंगलवार को लखनऊ व मथुरा तथा प्रयागराज गंगापार की कई थानों की फोर्स काफी मसक्कत के बाद पागल हाथी को किसी तरह काबू में किया। जिससे आस पास के गांव के लोगों ने राहत की सांस ली।