ALL जनसंदेश एक्सक्लूसिव वाराणसी-चंदौली पूूर्वांचल इलाहाबाद लखनऊ कानपुर-गोरखपुर आगरा देश-विदेश सृजन मनोरंजन/लाइफस्टाइल
यूपी के इन 32 जिलों में कल इस योजना का शुरूआत करेंगे पीएम मोदी
June 24, 2020 • जनसंदेश न्यूज • वाराणसी-चंदौली


गरीब कल्याण रोजगार अभियान में सूबे के 31 जिलों के लक्ष्य तय

वाराणसी में विभिन्न सेक्टर से कराए जाएंगे एक हजार 193 प्रोजेक्ट


सुरोजीत चैटर्जी
वाराणसी। वैश्विक महामारी कोरोना के चलते जारी लॉक डाउन के दौरान देश के 116 जनपदों में सर्वाधिक प्रवासी मजदूर पहुंचे। उनमें उत्तर प्रदेश के 31 जिले भी शामिल हैं। इन सभी श्रमिकों को 125 दिन का रोजगार देकर 25 सेक्टर में कार्य कराने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गरीब कल्याण रोजगार अभियान की शुरुआत की है। यूपी में 26 जून को यह मुहिम शुरु होगी, जिसका उद्घाटन पीएम मोदी करेंगे।
जानकारी के मुताबिक लॉक डाउन के दौरान सूबे वाराणसी समेत गाजीपुर, जौनपुर, देवरिया, प्रतापगढ़, गोरखपुर, कुशीनगर, महाराजगंज, आजमगढ़, प्रयागराज, सिद्धार्थनगर, गोंडा, बहराइच, बलरामपुर, हरदोई, बस्ती, सुल्तानपुर, मीरजापुर, संत कबीर नगर, बांदा, अंबेडकर नगर, सीतापुर, रायबरेली, अयोध्या, अमेठी, लखीमपुर खीरी, उन्नाव, श्रावस्ती, फतेहपुर, जालौन और कौशंबी में सर्वाधिक प्रवासी मजदूर पहुंचे। यह सभी ऐसे जनपद हैं जहां प्रवासी श्रमिकों की संख्या 25 हजार से अधिक है। शासन ने इनमें से प्रत्येक को 125 दिन तक विभिन्न विभागों में रोजगार उपलब्ध कराने का लक्ष्य तय किया है।
जिले में आये प्रवासी मजदूरों को पंचायत राज, एनएचएआई, लघु सिंचाई, सिंचाई, वन, उद्यान, आईसीडीएस, ग्राम्य विकास, रेलवे, नमामि गंगे, विद्युत, कृषि, राजस्व और पशुपालन आदि विभागों के कार्य कराए जाएंगे। श्रमिकों के जरिये संबंधित सभी कार्य तीन माह में पूर्ण कराने का टार्गेट है। उन्हें सामुदायिक शौचालय, पंचायत भवन, पीएम-सीएम योजना में आवास, बाउंड्री, सड़क, वाटर हार्वेस्टिंग एवं जल संरक्षण, पौधरोपण, आंगनवाड़ी भवन, रुर्वन मिशन, फाइबर ऑप्टिक केबल बिछाने, सॉलिड लिक्विड वेस्ट मैनेजमेंट (एसएलडब्ल्यूएम), मवेशियों के लिए शेड, वर्मी कंपोस्ट आदि कार्य सौंपे जाएंगे।
इसके लिए यूपी से संबंधित जनपदों को लक्ष्य सौंपे गये हैं। जिससे अंतर्गत वाराणसी में बकरियों के लिए 85 शेड, 30 गोवंश शेड, 199 कुक्कुट पालन शेड, 100 वर्मीा कंपोस्ट, फार्म पॉन्ड 86, जल संरक्षण 263, पौधरोपण 75, हार्टीकल्चर के 75 कार्य, ग्रामीण इलाकों में 261 सड़कों का निर्माण आदि मिलाकर कुल एक हजार 193 कार्य कराए जाएंगे। वहीं, सूबे में वाराणसी सहित चयनित 31 जिलों में कुल 59 हजार 250 कार्य कराने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। देश के चिह्नित 116 जनपदों में गरीब कल्याण रोजगार अभियान के तहत सरकार 50 हजार करोड़ रुपये खर्च करेगी। उत्तर प्रदेश में में कराए जाने वाले कार्यों का उद्घाटन 26 जून को प्रधानमंत्री करेंगे। इस बारे में गुरुवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से तैयारी बैठक बुलायी गयी है।