ALL जनसंदेश एक्सक्लूसिव वाराणसी-चंदौली पूूर्वांचल इलाहाबाद लखनऊ कानपुर-गोरखपुर आगरा देश-विदेश कोविड-19/देश-विदेश मनोरंजन/लाइफस्टाइल
विवाद के बाद थाने पहुंचे भाजपा ब्लाक प्रमुख पर पथराव, दो होमगार्ड सहित चार नामजद व अन्य के खिलाफ मुकदमा, यह था विवाद
August 16, 2020 • जनसंदेश न्यूज • देश-विदेश


जनसंदेश न्यूज़ 
लखनऊ। यूपी के हरदोई जिले में कार निकालने के दौरान हुए विवाद की शिकायत करने थाने पहुंचे ब्लाक प्रमुख व उनके साथियों पर थाने गेट के सामने दो होमगार्ड व उनके परिजनों ने पथराव कर दिया। जिसमें ब्लाक प्रमुख के करीबी रिश्तेदार घायल हो गये, वहीं उनकी कार बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गई। ब्लाक प्रमुख ने दोनों होमगार्डों सहित चार लोगों के खिलाफ नामजद व अन्य अज्ञात के खिलाफ तहरीर दी है।

बेहटा गोकुल थाना क्षेत्र के ग्राम टोडरपुर निवासी रामबाबू त्रिवेदी टोडरपुर के ब्लाक प्रमुख हैं। उनका पेट्रोल पंप हरदोई शाहजहांपुर मार्ग पर बेहटा गोकुल थाना क्षेत्र में सैदपुर पुल के आगे है। शुक्रवार देर रात ब्लाक प्रमुख के भाई श्याम बाबू त्रिवेदी अपने कुछ सहयोगियों के साथ पेट्रोल पंप से वापस अपने गांव जा रहे थे।

निर्माणाधीन सैदपुर पुल के कारण जाम लगा हुआ था। इसी दौरान किसी तरह ब्लाक प्रमुख के भाई के चालक ने कार निकालने की कोशिश की। इस पर वहां मौजूद होमगार्ड यदुवीर से विवाद हो गया। ब्लाक प्रमुख के भाई श्याम बाबू त्रिवेदी ने बात को खत्म कर घर चलने को कहा और फिर गांव चले गए।

ब्लाक प्रमुख का आरोप है कि घटना के बाद बेहटा गोकुल के प्रभारी निरीक्षक लक्ष्मीकांत मिश्रा और यहां तैनात उपनिरीक्षक कप्तान सिंह ने उन्हें फोन कर थाने बुलाया। जिसके बाद देर रात में थाने के गेट पर पहुंचे ही थे कि वहां पहले से ही मौजूद होमगार्ड यदुवीर, राजकुमार ने अपने परिजनों रघुराज प्रताप, रणवीर आदि के साथ पथराव करना शुरू कर दिया। 

घटना में टोडरपुर ब्लाक प्रमुख के करीबी रिश्तेदार रिश्तेदार ऋषि कांत निवासी असगरपुर ईंट लगने से घायल हो गए, जबकि उनकी कार बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गई। पुलिस ने होमगार्ड और उसके पुत्र को हिरासत में ले लिया है, जबकि मारपीट के दौरान ही ब्लॉक प्रमुख के भाई व उनके साथियों ने भी दो लोगों को पकड़ लिया था। 

एसपी अमित कुमार ने बताया कि ब्लाक प्रमुख के पेट्रोल पंप के मुनीम मनीष दीक्षित पुत्र भैयालाल दीक्षित की तहरीर पर यदुवीर सिंह, रघुराज प्रताप सिंह, राजकुमार रणजीत सिंह व चार अज्ञात लोगों के विरुद्ध रिपोर्ट दर्ज की गई है। पूरे मामले की जांच की जा रही है।