ALL जनसंदेश एक्सक्लूसिव वाराणसी-चंदौली पूूर्वांचल इलाहाबाद लखनऊ कानपुर-गोरखपुर आगरा देश-विदेश कोविड-19/देश-विदेश मनोरंजन/लाइफस्टाइल
विकास दुबे की बहू समेत चार गिरफ्तार, विकास की गिरफ्तारी के लिए चालीस थानों की जुटी पुलिस, अभी भी पकड़ से बाहर
July 7, 2020 • जनसंदेश न्यूज • देश-विदेश


जनसंदेश न्यूज़
लखनऊ। यूपी के कानपुर में बिकरू में हुए आठ पुलिसकर्मियों के सामूहिक हत्याकांड के चार बीतने के बाद घटना का मुख्य आरोपी विकास दुबे अभी भी पुलिस की पकड़ से बाहर है। पुलिस उसे पकड़ने के लिए लगातार अभियान चलाये हुए है। इसी बीच पुलिस ने विकास दुबे के खिलाफ शिकंजा कसते हुए तीन और लोगों को गिरफ्तार किया है। मामले में एक आरोपी को पुलिस ने पहले गिरफ्तार किया था। अब पुलिस की गिरफ्त में विकास दुबे से जुड़े चार लोग शामिल हो गये, जिनसे बड़े स्तर पर पुलिस पूछताछ कर विकास दुबे को पकड़ने में जुटी हुई है।
मंगलवार को गिरफ्तार हुए लोगों में सुरेश वर्मा, क्षमा दुबे और रेखा अग्निहोत्री है। जिसमें क्षमा दुबे रिश्ते में विकास दुबे की बहू लगती है। वहीं बदमाशों का हौसला बढ़ाने वाला और पुलिस के छिपने की जानकारी देने वाला सुरेश वर्मा और घरेलू सहायिका रेखा, जो हरिशंकर अग्निहोत्री की पत्नी है, को गिरफ्तार किया गया। वह रेखा ही थी जिसने पुलिस आने की सूचना बदमाशों को दी थी।
आपको बता दें कि हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे को पकड़ने में चालीस थानों की पुलिस जुटी हुई है। लेकिन अब तक वह पुलिस की पकड़ से बाहर है। इस मामले में चौबेपुर थाने पर तैनात दो इंस्पेक्टर व एक कांस्टेबल को निलंबित भी किया जा चुका है और भी कई पुलिसकर्मी संदेह के घेरे में है। इन पुलिस वालों पर विकास दुबे के लिए जासूसी करने का आरोप लग रहा है। वहीं चौबेपुर के थाना इंचार्ज विनय तिवारी को पहले ही सस्पेंड किया जा चुका है।