ALL जनसंदेश एक्सक्लूसिव वाराणसी-चंदौली पूूर्वांचल इलाहाबाद लखनऊ कानपुर-गोरखपुर आगरा देश-विदेश सृजन मनोरंजन/लाइफस्टाइल
विधायक विजय मिश्रा मध्यप्रदेश से गिरफ्तार, एक दिन पहले ही ब्राम्हण होने के कारण एनकाउंटर की जताई थी चिंता
August 14, 2020 • शाहनवाज खान • पूूर्वांचल

विधायक को ट्रांजिट रिमांड पर लेने के लिए मालवा के लिए रवाना हुई भदोही पुलिस टीम 

जनसन्देश न्यूज
ज्ञानपुर/भदोही। जनपद के ज्ञानपुर विधान सभा क्षेत्र के बाहुबली विधायक विजय मिश्रा को शुक्रवार को मध्य प्रदेश के आगर जिले के मालवा से गिरफ्तार कर लिया गया। भदोही पुलिस अधीक्षक के अनुरोध पर विधायक को एमपी पुलिस ने गिरफ्तार किया है। और उन्हें ट्रांजिट रिमांड पर लेने के लिए भदोही पुलिस की टीम मालवा रवाना हो गयी है।
मिली जानकारी के मुताबिक विधायक मिश्रा कार (यूपी-60-बीआर-6030) से उज्जैन होते हुए आगर-मालवा पहुंचे थे। मार्ग में तनोड़िया थाना के पुलिस कर्मियों ने उन्हें रोका और पूछताछ के लिए थाने पर ले आये। प्रेसवार्ता के दौरान जानकारी देते हुए एसपी राम बदन सिंह ने बताया कि विधायक विजय मिश्रा व उनकी विधान परिषद सदस्य पत्नी रामलली तथा पुत्र विष्णु मिश्रा के खिलाफ गोपीगंज थाने में उनके रिश्तेदार कृष्ण मोहन तिवारी ने मकान में जबरदस्ती रहने और फर्म पर कब्जा करने का एफआईआर कराया गया था। रिश्तेदार का बयान कोर्ट में दर्ज होने के बाद पुलिस विधायक की गिरफ्तार के प्रयास में थी। 
एसपी के मुताबिक गिरफ्तारी से बचने के लिए विधायक भाग रहे थे और उनके मध्य प्रदेश के मालवा में होने की जानकारी मिलने पर इसकी सूचना एमपी पुलिस को दिया गया। जिसके बाद वहां की पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया। इस मामले में विजय मिश्रा को अब जेल भेजा जाएगा। उनका ट्राएल होगा और केस की इन्वेस्टिगेशन की जाएगी। उनकी पत्नी और बेटे को भी गिरफ्तार कर जेल भेजा जाएगा।
ज्ञात हो कि विजय मिश्रा ज्ञानपुर विधानसभा से चौथी बार विधायक हैं। तीन बार समाजवादी पार्टी से और चौथी बार टिकट कटने के बाद निषाद पार्टी से चुनाव लड़कर विधायक बने। उनकी पत्नी रामलली मिर्जापुर-सोनभद्र से एमएलसी हैं। दो दिन पहले विधायक ने एक वीडियो वायरल करते हुए खुद के ब्राम्हण होने का हवाला देते हुए आरोप लगाया था कि उनकी हत्या की साजिश रची जा रही है। गुरुवार को विधायक के वीडियो का भदोही पुलिस ने खंडन किया था। हाल ही में विधायक के खिलाफ एक व्यापारी को धमकी दिए जाने का ऑडियो वायरल होने के बाद उनके खिलाफ गुंडा एक्ट के तहत भी कार्यवाही किया गया है। विधायक विजय मिश्रा के गिरफ्तार होने पर जनपद की सियासी सरगर्मी बढ़ गयी है।