ALL जनसंदेश एक्सक्लूसिव वाराणसी-चंदौली पूूर्वांचल इलाहाबाद लखनऊ कानपुर-गोरखपुर आगरा देश-विदेश सृजन मनोरंजन/लाइफस्टाइल
वाराणसी में नहाने के दौरान गंगा के गहरे पानी में डूबने लगी महिला, एनडीआरएफ ने जवानों ने बचाई जान
August 9, 2020 • जनसंदेश न्यूज • वाराणसी-चंदौली

जनसंदेश न्यूज़
वाराणसी। आपदा के समय हमेशा से संकटमोचक की भूमिका निभाने वाली एनडीआरएफ ने रविवार को गंगा नदी में डूब रही एक महिला की जान बचाई। चंदौली निवासी महिला नहाने के दौरान अचानक गहरे पानी में जाने से डूबने लगी। जिसके देख मौके पर मौजूद एनडीआरएफ जवानों ने उस महिला को बचाया और पुलिस के हवाले कर दिया। जिससे उसका आवश्यक उपचार हो सके। 
सूचना के मुताबिक भैंसासुर घाट पर रविवार दोपहर एक 60 वर्षीय माहिला गौरा देवी निवासी गांव कोनिया, जिला चंदौली गंगा नदी में नहाते समय अचानक गहरे पानी में चली गयीं और डूबने लगीं। डूबती हुई महिला की चीख-पुकार सुनकर घाट पर दैनिक प्रशिक्षण हेतु तैनात एन.डी.आर.एफ के सहायक उपनिरीक्षक दिनेश चन्द्र दुबे के साथ हवलदार पवन कुमार और कांस्टेबल मनोज कुमार बिना समय गंवाए घटनास्थल पर पहुंचे।
महिला को डूबते देख एन.डी.आर.एफ के सहायक उपनिरीक्षक दिनेश चन्द्र दुबे ने महिला की तरफ नदी में एक रस्सी फेंक दी और उसे पकड़कर तैरने के लिए कहा। आनन-फानन में अपनी ओर रस्सी के सिरे को देखकर महिला ने उसे पकड़ लिया और एन.डी.आर.एफ के रेस्कुएर्स ने उसे नदी से बाहर की ओर खींचकर निकाल लिया। बाहर निकालने के पश्चात महिला को आवश्यक प्राथमिक उपचार देने के बाद उसे स्थानीय पुलिस को सुपुर्द कर दिया गया, जिससे कि महिला को अग्रिम उपचार हेतु जिला अस्पताल पहुँचाया जा सके। 
एन.डी.आर.एफ रेस्कुएर्स की त्वरित कार्यवाही और दिए गए उपचार की वजह से महिला की जान को बचाया जा सका। जिसकी स्थानीय उपस्थित लोगों और जिला प्रशासन ने बहुत सराहना की और पीड़ित महिला ने एन.डी.आर.एफ का ह्रदय से आभार व्यक्त किया।