ALL जनसंदेश एक्सक्लूसिव वाराणसी-चंदौली मीरजापुर-सोनभद्र-भदोही जौनपुर-गाजीपुर आजमगढ़-मऊ बलिया इलाहाबाद देश-विदेश करोना वायरस मनोरंजन/लाइफस्टाइल
वाराणसी में बारिश से भारी दुर्व्यवस्था : सेक्रेटरी सस्पेंड, दुकानदार को जेल, कूड़ा फैलाने पर जुर्माना
July 12, 2020 • जनसंदेश न्यूज • वाराणसी-चंदौली

- जल भराव और जल निकासी का जायजा लेने निकले डीएम ने गिरायी गाज

- तीन सप्ताह पहले जलालापट्टी में कच्चा नाला खोदने के निर्देश की अनदेखी

- समस्या समाधान न करने वाले काशी विद्यापीठ विकास खंड का सचिव नपा

- जारी लॉक डाउन में दुकान खोलकर बेच रहे थे चाय, हुए थानेदार के हवाले


सुरोजीत चैटर्जी
वाराणसी। जलालीपट्टी क्षेत्र में जल जमाव खत्म करने के लिए कच्चा नाला खोदवाने के निर्देश की अनदेखी करने पर काशी विद्यापीठ विकास खंड के सेक्रेटरी अंशुमान सिंह को निलंबित कर दिया है। इसी इलाके में प्लॉट पर कूड़े का ढेर लगाने वाले व्यक्ति पर जुर्माना लगाते हुए चेतावनी दी गयी है कि दो दिन में कूड़ा नहीं हटवाया को रपट दर्ज करायी जाएगी। लॉक डाउन के बावजूद चाय की दुकान खोलने वाले को जेल भेज दिया गया।
शहर के विभिन्न क्षेत्रों में जम जमाव और जल निकासी की स्थिति देखने रविवार को निकले जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने यह कार्रवाई की। वह जलालीपट्टी इलाके का जायजा ले रहे थे। एक स्थान पर जलजमाव रोकने और जलनिकासी के लिए तीन सप्ताह पहले कच्चा नाला खोदने निर्देश दिये गये थे लेकिन मौके पर कोई कार्य नहीं दिखा। फलस्वरूप उन्होंने आदेश का अनुपालन न करने और लापरवाही बरतने के आरोप में काशी विद्यापीठ ब्लाक के सचिव अंशुमान सिंह को सस्पेंड करने का निर्देश डीपीअरओ शाश्वत आनंद सिंह को दिया।
इसके अलावा डीएम ने जलालीपट्टी में गंदगी करने समेत कूड़े का ढेर लगाने पर स्थानीय व्यक्ति सुनील यादव की जमकर क्लास ली। साथ ही 500 रुपये का जुर्माना लगाया। उन्होंने चेतावनी की कि यदि दो दिन के भीतर कूड़े का ढेर नहीं हटवाया गया तो एफआईआर कराएंगे। इससे पूर्व श्री शर्मा ने बीएचयू कैंसर हॉस्पिटल के निकट नाला ओवरफ्लो होने की प्राप्त शिकायत पर मौका-मुअयना किया। उस क्षतिग्रस्त नाले को लोक निर्माण विभाग ने पहले ही दुरुस्त करा दिया है। इस कारण वहां फिलहाल ओवरफ्लो की समस्या नहीं है।
जिलाधिकारी डीएलब्ल्यू कोविड अस्पताल का निरीक्षण कर पीएसी गेट के पीछे से होकर गुजर रहे थे। वहां लॉक डाउन के बावजूद चाय की एक दुकान खुली दिखी और मौके पर लगभग आधा दर्जन लोग फिजिकल डिस्टेंसिंग की की अनिवार्यता का दरकिनार करते हुए चाय की चुस्कियां लेते दिखे। डीएम ने अपनी गाड़ी रुकवा दी और दुकानदार समेत चाय पी रहे लोगों को फटकारा। साथ ही लॉक डाउन का उल्लंघन करने के आरोप में दुकानदार को मंडुवाडीह थाना प्रभारी के हवाले करते हुए उसे जेल भेजने के निर्देश दिये।