ALL जनसंदेश एक्सक्लूसिव वाराणसी-चंदौली पूूर्वांचल इलाहाबाद लखनऊ कानपुर-गोरखपुर आगरा देश-विदेश सृजन मनोरंजन/लाइफस्टाइल
वाह रे प्रधान जी, कब्जे वाली भूमि पर भी कर दिया 159 लोगों का अवैध पट्टा
September 17, 2020 • जनसंदेश न्यूज • पूूर्वांचल

ग्रामीणों ने किया विरोध प्रदर्शन और नारेबाजी

पांच सौ घरो में नहीं मिला शौचालय

जनसंदेश न्यूज 
दुल्लहपुर/गाजीपुर। जखनियां ब्लाक स्थित जलालाबाद के ग्रामीणों ने गांव में अवैध रूप से पट्टे किए जाने को लेकर जमकर विरोध प्रदर्शन करते हुए नारेबाजी की। ग्रामीणों ने ग्राम प्रधान पर आरोप लगाया कि गांव में अधिकारियों की मिलीभगत से 159 लोगों का अवैध रूप से भूमि का पट्टा किया गया है। आश्चर्य की बात यह है कि कब्जे वाले भूमि पर भी पट्टे किए गए है। जहां गांव के लोग निवास करते है। संदेह है कि, गांव में इस मामले को लेकर खूनी संघर्ष भी हो सकती है। 

ग्रामीणों ने प्रधान के उपर गंभीर आरोप लगाते हुए बताया कि प्रधानमंत्री की महत्वाकांक्षी योजनाओं में शामिल शौचालय का लाभ 500 घरों में अब तक नहीं मिला है। महिलाएं खुले शौच करने के लिए मजबूर है। हालांकि, ग्रामीणों ने इसकी शिकायत सीएम पोर्टल और जिलाधिकारी से पत्रक देकर कर चुके है। लेकिन किसी प्रकार की कोई जांच नहीं हुई और ना ही तो अवैध रूप से हुई पट्टे का निस्तारण किया गया। 

दरअसल, गांव में जो पट्टा किया गया है, उसमें एक बिस्वा से लेकर ढ़ाई बीघा तक की भूमि का पट्टा किया गया है। प्रधान पर ग्रामीणों का आरोप है कि एक बिस्वा भूमि पर 5000 के रेट से रिश्वत लिया गया है। प्रदर्शन करने वाले ग्रामीणों में शंभू यादव, रामविलास यादव, लगदु चौहान, पांचू यादव, राजेश कुमार, बाल गोविंद राम, सुदर्शन यादव, प्रभावती देवी, रामावती देवी, राधिका देवी, श्याम सुंदर यादव, महाजन यादव, गुलाब यादव, हरिहर यादव, संपत चौहान, गीता यादव, सुरती यादव, गुड्डू यादव, मुन्ना यादव, सुमन देवी, चंद्रभान यादव सहित काफी ग्रामीण मौजूद थे।

इस मामले में जखनिया विकास खंड अधिकारी संदीप श्रीवास्तव ने बताया कि गांव बड़ा है हो सकता है कुछ लोग शौचालय पाने से वंचित हो गए होंगे। उनकी जांच कराई जाएगी और उनकी दूसरी सूची में नाम डालकर शौचालय का लाभ दिलाया जाएगा ।