ALL जनसंदेश एक्सक्लूसिव वाराणसी-चंदौली मीरजापुर-सोनभद्र-भदोही जौनपुर-गाजीपुर आजमगढ़-मऊ बलिया इलाहाबाद देश-विदेश करोना वायरस मनोरंजन/लाइफस्टाइल
वाह! गोदौलिया में हरियाली, पाथ-वे पर बेंच, खूबसूरत लाइटिंग भी, मंडलायुक्त ने किया मुआयना
June 24, 2020 • सुरोजीत चैटर्जी • वाराणसी-चंदौली

कमिश्नर दीपक अग्रवाल ने गोदौलिया-दशाश्वमेध के स्ट्रीट पेडिस्ट्राइजेशन कार्य का किया मुआयना

आठ करोड़ की लागत से निमार्णाधीन परियोजना हर हाल में सितंबर तक पूर्ण कराने के दिए निर्देश

पाथ-वे पर दोनों ओर लगाए जा रहे ग्रेनाइट पत्थर व सड़क पर कट स्टोन में गैप पर हो गये नाराज

पत्थर के बड़े स्तंभों के बीच एक-एक छोटे स्तंभ, बैठने को बेंच और पौधरोपण करने पर दिया जोर

सुरोजीत चैटर्जी
वाराणसी। गोदौलिया-दशाश्वमेध रोड पर लगभग आठ करोड़ रुपये की लागत से बन रहे स्ट्रीट पेडिस्ट्राइजेशन कार्य सितंबर माह तक पूर्ण कर लेना होगा। रोड के किनारे पाथ-वे पर दोनों ओर लग रहे पत्थर के बड़े स्तंभों के बीच छोटा स्तंभ लगेंगे और लोगों के बैठने के लिए बेंच भी रहेगा। साथ ही खूबसूरत लाइटिंग के साथ पौधरोपण होगा। मार्ग पर बिजली के तारों को भूमिगत करेंगे।
कमिश्नर दीपक अग्रवाल ने बुधवार को इस सड़क का मौका-मुआयना करते हुए यह निर्देश दिये। उन्होंने कार्यदायी संस्था उत्तर प्रदेश राजकीय निर्माण निगम को यह परियोजना तीन माह के भीतर सितंबर तक पूर्ण कराने को कहा। उन्होंने मार्ग के दोनों ओर पाथ-वे पर लगाए जा रहे ग्रेनाइट पत्थर संग कट स्टोन के बीत अधिक गैप दिखने और पर्याप्त समतलीकरण न होने पर सख्त नाराजगी जतायी। उन्होंने पत्थरों को सटाकर लगाने के निर्देश दिये।
मंडलायुक्त ने कार्यदायी संस्था के परियोजना प्रबंधक से कहा कि कार्य की गुणवत्ता में किसी भी प्रकार की लापरवाही न हो। सड़क के दोनों तरफ पाथ-वे पर लगाए जा रहे पत्थर के बड़े स्तंभों के बीच एक-एक छोटे स्तंभ लगाए और आमलोगों के बैठने के लिए बेंच भी रखा जाय। रोड के दोनों ओर खूबसूरत लाइटिंग के साथ पौधरोपण हो। उन्होंने लगाए जा रहे ग्रेनाइट पत्थर एवं कट स्टोन का लोड टेस्टिंग कराने के निर्देश दिये।
श्री अग्रवाल ने कार्य में प्रयोग किये जा रहे किसी-किसी कट स्टोन पर ब्लैक स्पॉट देखकर उन्होंने रोष व्यक्त करते हुए एक ही रंग के पत्थर का उपयोग करने को कहा। उन्होंने गोदौलिया चौराहे से कुछ दूर स्थित सड़क के किनारे बदहाल शौचालय को हटवाने के निर्देश देते हुए कहा कि चौराहे के निकट निमार्णाधीन दोपहिया वाहन पार्किंग स्थल पर टॉयलेट बनाया जा रहा है। सो, इस शौचालय की उपयोगिता नहीं रहेगी।
उन्होंने गोदौलिया-दशाश्वमेध मार्ग के दोनों तरफ मकानों और उनके पिलर पर फसाड लाइटिंग कराने को कहा। मार्ग के विद्युत तारों को अंडरग्राउंड कराने समेत नाली की लेवलिंग कराने पर जोर दिया। ताकि रोड पर बारिश के पानी का जल-जमाव न हो सके। कमिश्नर ने बताया कि इस मार्ग पर स्ट्रीट पेडिस्ट्राइजेशन कार्य सितंबर तक पूर्ण हो जाएगा। निरीक्षण के दौरान उत्तर प्रदेश राजकीय निर्माण निगम के परियोजना प्रबंधक आरबी सिंह, उत्तर प्रदेश पर्यटन के टूरिस्ट अफसर कीर्तिमान श्रीवास्तव भी थे।

अनुपम छवि देखेंगे टूरिस्ट
- गोदौलिया चौराहे पर दोपहिया वाहनों के लिए और मैदागिन स्थित टाउनहॉल में चार पहिया वाहनों का पार्किंग स्थल निर्माण कार्य तेजी से जारी है। मंडलायुक्त दीपक अग्रवाल ने बुधवार को गौदौलिया क्षेत्र में मुआयने के दौरान कहा कि दोनों पार्किंग स्थल तैयार होने के बाद दशाश्वमेध रोड पर प्रायरू होने वाली भीड़ को पूरी तरह नियंत्रित करना संभव होगा। इससे यहां पर आने वाले पर्यटकों को बेहतर सुविधा मिलेगी। टूरिस्ट गोदौलिया-दशश्वमेध मार्ग की अनुपम छवि देख सकेंगे।

सीएनजी किट से लैस करें नाव
मंडलायुक्त दीपक अग्रवाल ने मांझी समाज के अध्यक्ष प्रदीप साहनी ‘सोनू’ से कहा है कि मल्लाह अपनी-अपनी नावों में सीएनजी किट लगवाएं। बुधवार को गोदौलिया इलाके के निरीक्षण के समय उन्होंने सोनू से कह कहा। साथ ही गेल के अधिकारी को कुछ नाव प्रतीकात्मक रूप से सीएनजी किट से लैस कराने के निर्देश दिये। जिससे नाविक सीएनजी गैस किट के बारे में प्रयोगात्मक रूप से परिचित और इसके प्रयोग के लिए प्रेरित हो सकें। कमिश्नर ने कहा कि नावों में सीएनजी किट लगने से पर्यावरण के साथ ही गंगा का पर्यावरण शुद्ध रखने में यह पहल सहायक रहेगा।