ALL जनसंदेश एक्सक्लूसिव वाराणसी-चंदौली मीरजापुर-सोनभद्र-भदोही जौनपुर-गाजीपुर आजमगढ़-मऊ बलिया इलाहाबाद देश-विदेश करोना वायरस मनोरंजन/लाइफस्टाइल
उम्भाकांड की बरसी पर श्रद्धांजलि देने जा रहे कांग्रेस प्रदेश अजय लल्लू समेत पूर्वांचल के कई कांग्रेस नेता गिरफ्तार
July 16, 2020 • जनसंदेश न्यूज • वाराणसी-चंदौली

बीते साल उम्भा में हुए नरसंहार के शहीदों को श्रद्धांजलि देने जा रहे थे सोनभद्र

प्रदेश अध्‍यक्ष को गोपीगंज व अजय राय समेत अन्य की नरायनपुर में गिरफ्तारी

अजय लल्लू ने पूछा : यह लोकतंत्र है या राजतंत्र, जवाब नहीं दे सके अधिकारी

सुरोजीत चैटर्जी
वाराणसी। सोनभद्र में गत वर्ष हुए उभ्भा नरसंहार के शहीदों को श्रद्धांजलि देने जा रहे कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू समेत तीन नेताओं को गुरुवार को गोपीगंज में और नरायनपुर टोल प्लाजा पर पूर्वांचल के विभिन्न जिलों के कांग्रेस पदाधिकारियों, नेताओं और कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार कर लिया गया। गोपीगंज में हुई गिरफ्तारी के दौरान पुलिस-प्रशासन के अधिकारी श्री लल्लू के इस सवाल का जवाब नहीं दे सके कि उन्हें किन कारणों ने बीच रास्ते में ही रोक कर गिरफ्तार किया गया है। दूसरी ओर, नरायनपुर टोल प्लाज पर ही हुई गिरफ्तारी के बाद पार्टी वर्कर वहीं धरने पर बैठ गये। उन्होंने सरकार और पुलिस-प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।
श्री लल्लू लखनऊ से सड़क मार्ग से उभ्भा जा रहे थे। उनके साथ दो और कांग्रेसजन थे। पुलिस द्वारा गिरफ्तार कर लिये जाने पर कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष ने सवाल खड़े किये कि इस सरकार में तय होना चाहिए कि यह लोकतंत्र है या नहीं। यदि राजतंत्र है तो कोई बात नहीं। और यदि लोकतंत्र है तो हमें जाने दिया जाय। हमलोग सिर्फ तीन लोग उभ्भा में श्रद्धांजलि अर्पित करने के लिए शांतिपूर्वक जा रहे हैं। क्या हमें अभिव्यक्ति की आजादी नहीं है?

गोपीगंज में गिरफ्तार हुुुए कांग्रेस प्रदेश अध्‍यक्ष अजय कुुुुमार लल्‍लू

उन्होंने प्रश्न किया कि क्या हमें संविधान ने अधिकार नहीं दिया है कि हम जहां जाना चाहें, नहीं जा सकते? क्या हम किसी के दुख में नहीं शामिल नहीं हो सकते? हम राजनीतिक दल के प्रदेश अध्यक्ष हैं। मैं शहीदों को फूल अर्पित नहीं कर सकता? यह गलत है। सिर्फ यह बता दें कि हमें रोकने के पीछे कारण क्या है। हैरानी है कि इतनी भारी फोर्स लेकर हमें रोका जा रहा है। यदि मैं किसी कानून का उल्लंघन कर रहा हूं या किसी अफसर को डिस्टर्ब कर रहा हूं तो बताएं।
श्री लल्लू ने कहा कि मंत्री और मुख्यमंत्री को जाने की अनुमति है लेकिन दूसरी पार्टी के किसी को जाने की परमिशन क्यों नहीं है। मौके पर पुलिस-प्रशासन के अधिकारी श्री लल्लू के सवालों का उत्तर नहीं दे सके। दूसरी ओर, वाराणसी व पूर्वांचल के विभिन्न जनपदों से पार्टी के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व विधायक अजय राय के नेतृत्व में संगठन के कार्यकर्ता उम्भा रवाना हुए थे। उन्हें नरायनपुर टोल प्लाज पर भारी पुलिस बल ने गिरफ्तार कर लिया।

नरायनपुर टोल प्‍लाजा पर धरना देते कांग्रेस नेता अजय राय व अन्‍य

अफसरों के इस रवैये के खिलाफ कांग्रेसजनों ने शासन-प्रशासन के विरुद्ध जमकर नारेबाजी करते हुए वहीं धरने पर बैठ गये। इस मौके पर श्री राय ने आरोप लगाया कि सूबे की सरकार जनता का दमन कर और लोकतंत्र की हत्या कर रही है। हमलोग शांतिपूर्ण ढंग से उभ्भा जा रहे थे ताकि वहां बीते साल नरसंहार में शहीद हुए लोगों को श्रद्धांजलि अर्पित कर सकें। हम इस गिफ्तारी की निंदा और भर्त्सना करते हैं।


धरने में प्रदेश महामंत्री विश्वविजय, पूर्व सांसद डॉ. राजेश मिश्र, महानगर अध्यक्ष राघवेंद्र चैबे, जिलाध्यक्ष राजेश्वर पटेल, सेवादल के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. प्रमोद पांडेय, देवेंद्र सिंह, चंदौली, जौनपुर, मीरजापुर जिलाध्यक्षों को गिरफ्तार कर लिया गया है। बता दें गत वर्ष 17 जुलाई को उभ्भा जब नरसंहार के बाद जब कांग्रेस की राष्टकृीय महासचिव प्रियंका गांधी उभ्भा जा रही थीं तो उन्हें रास्ते में ही रोककर नजरबंद कर दिया गया था। प्रकरण को लेकर काफी हंगामा मचा।