ALL जनसंदेश एक्सक्लूसिव वाराणसी-चंदौली पूूर्वांचल इलाहाबाद लखनऊ कानपुर-गोरखपुर आगरा देश-विदेश सृजन मनोरंजन/लाइफस्टाइल
तेनालीरामा के साथ अपने बचपन के सपने को फिर जी रहा हूं: तरुण खन्ना
September 5, 2020 • डॉ. दिलीप सिंह • मनोरंजन/लाइफस्टाइल



जनसंदेश न्यूज़
इंदौर। तेनाली रामा शो के बारे में जब तरुण खन्ना से पूछा गया तो उनका कहना था कि जब मुझे यह शो ऑफर किया गया, तो मेरा दिमाग सीधे मेरे बचपन में चला  गया क्योंकि मैं वाकई में तेनाली रामा की कहानियों का बहुत शौकीन था और उन्हें खूब पढ़ता था। तेनाली रामा की कहानी को पढ़ते हुए बड़े होना और कुछ सालों के बाद उसी कहानी का हिस्सा बनने का मौका मिलना ऐसा है जैसे बचपन के सपने का साकार होना। मेरी खुशी तब और बढ़ गई जब मुझे सोनी सब से जुड़ने और ऐसे शो का हिस्साा बनने का मौका मिला जिसे पूरा परिवार साथ बैठकर देख सकता है। तेनाली रामा मेरे दिल के बहुत ही करीब है और ऐसी कोई वजह नहीं थी कि मैं इस अवसर को जाने देता। 

राजा कृष्णदेवराय का किरदार मेरे अन्य किरदारों से इसलिए अलग है क्योंकि मैंने अब तक जितने भी किरदार निभाए हैं उनकी तुलना में यह हलका-फुलका और कॉमेडी वाला है। मैंने पहले जो भी किरदार निभाए हैं, वो स्वभाव से गंभीर रहे हैं। मैं किरदार के कठोर स्वभाव की प्रशंसा करता हूं जिसमें हास्यव का भी मिश्रण है। मुझे इस किरदार का भव्य रूप भी पसंद है हालांकि हर दिन मुझे मूंछे लगाने के लिए संघर्ष करना पड़ता है। 

राजा कृष्णदेवराय विजयनगर के राजा हैं। वो पिछले 20 वर्षों से जंगल में थे क्योंकि वह सभी भौतिक सुखों को छोड़ना चाहते थे और एक साधारण जीवन बिताना चाहते थे। लेकिन यह पता चलने के बाद कि विजयनगर गंभीर खतरे में है, वह विजयनगर को उनके दुश्मनों से बचाने के लिए वापिस लौट आते हैं। कृष्णदेव राय एक दमदार किरदार है जो अपने आस-पास के कॉमेडी किरदारों के साथ अच्छी तरह से निखर के आता है। वो अपने नौ रत्नों, खासकर पंडित रामा कृष्णा जिनकी चतुराई और बुद्धिमत्ता  हमेशा राज्य को हर परेशानी से सुरक्षित रखती है, को बहुत महत्व देता है।

निश्चित रूप से, उस किरदार में उतरना जो काफी चर्चित और पसंद किया जाने वाला किरदार है, काफी चुनौतीपूर्ण था। अपेक्षा का एक निश्चित स्तर है जिससे मुझे अपने आप को मिलाना था। सबसे बड़ी चुनौती लोगो को यह विश्वास दिलाना था कि मैं ही राजा कृष्णदेवराय हूं और इसके लिए मुझे सच में राजा का जीवन जीना था और इसकी बारीकियों पर ध्यान केंद्रित करना था। मुझे लगता है मेरी कोशिश और मेरा कठिन परिश्रम धीरे-धीरे खत्म हो रहा है और मैं खुश हूं कि दर्शक मुझे इस किरदार में स्वीकार कर रहे हैं और मैं उम्मीद करता हूं वो अपना प्यार और सहयोग इसी तरह शो को देना जारी रखेंगे।

हम दोनों का रिश्ताड एक-दूसरे के साथ बहुत ही अच्छा है क्योंकि मेरे अधिकतर सीन्स उनके साथ होते हैं। कृष्णा पूरी तरह से प्रोफेशनल हैं और हिंदी पर उनकी पकड़ बहुत अच्छी है, जोकि वास्तव में बहुत कम देखने मिलता है। उनके साथ शूट करना हमेशा सहज होता है और ऐसे प्रतिभाशाली सह-कलाकार के साथ काम करना वाकई मजेदार होता है। मैंने इस भूमिका के लिए कोई तैयारियां नहीं की। मैं किसी भी चीज को परफेक्ट बनाने के लिए उसकी नकल करने में विश्वास नहीं करता। मैं सेट पर बिलकुल साफ दिल से आया और निर्देशक व टीम ने मुझे मेरे किरदार के बारे में जो समझाया, मैंने उसे बहुत ही ध्यान से सुना और समझा। मैंने उनके निर्देशन का पालन किया और एक कलाकार के रूप में किरदार को निभाने के लिए अपने तरीके निकाले। सोनी सब के ह्यतेनाली रामाह्ण के सभी दर्शकों को, मैं हर किसी को प्रोत्साहित करना चाहूंगा कि वह तेनाली रामा देखते रहें। यह एक ऐसा शो है जो परिवार के सभी सदस्यों को कुछ खास प्रदान करता है। इस शो को देखकर बड़ों को उनका बचपन याद आएगा, जबकि बच्चे हर एपिसोड में कुछ न कुछ नया सीखेंगे। तो पूरे परिवार को एक साथ लाएं और तेनाली रामा देखकर एक-दूसरे के साथ हंसी-खुशी साझा करें।