ALL जनसंदेश एक्सक्लूसिव वाराणसी-चंदौली पूूर्वांचल इलाहाबाद लखनऊ कानपुर-गोरखपुर आगरा देश-विदेश कोविड-19/देश-विदेश मनोरंजन/लाइफस्टाइल
सोन नदी में नहाने गए चार दोस्त एक दूसरे को बचाने में डूबे, एक का शव बरामद, मचा कोहराम
September 12, 2020 • शशिकांत चौबे • पूूर्वांचल

मध्य प्रदेश के लमसरई गांव के रहने वाले हैं सभी किशोर

कोचिंग पढ़ने के बाद पहुंचे थे नदी में नहाने 

पुलिस गोताखोरों व ग्रामीणों की मदद से कर रही शवों की तलाश

पानी के तेज बहाव के चलते रेस्क्यू कार्य में आ रही बाधा

जनसंदेश न्यूज  
ओबरा/सोनभद्र। जिले के जुगैल थाना क्षेत्र अंतर्गत कुड़ारी गांव में शनिवार की दोपहर उस समय हड़कंप मच गया। जब सोन नदी में नहाने गए चार किशोर डूब गए। उनके साथ नहाने गए अन्य किशोरों ने भाग कर लोगों को इसकी जानकारी दिया। सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस व ग्रामीणों ने डूबे हुए किशोरों की तलाश शुरू कर दिया। देर शाम तक एक शव बरामद कर लिया गया था।

बताया गया कि मध्य प्रदेश के लमसरई गांव निवासी 16 वर्षीय अमित पुत्र राजेश, 14 वर्षीय आनंद पुत्र लाल पति, 14 वर्षीय रोहित पुत्र लाल बहादुर व 16 वर्षीय राहुल पुत्र कुंजीलाल अपने कुछ दोस्तों के साथ कोचिंग पढ़ने के पश्चात सुबह नौ बजे कुड़ारी गांव स्थित सोन नदी में नहाने का प्लान बनाया। नदी घाट पर पहुँच सभी बच्चे अपने अपने बैग व कपड़े उतारकर नहाने लगे। 

इसी दौरान एक किशोर नदी के गहरे पानी डूबने लगा, तभी दूसरे दोस्त ने साथी को डूबता देख उसको बचाने के लिए आगे बढ़ा तो वह भी डूबने लगा। इसी तरह एक दूसरे को बचाने के चक्कर में चार किशोर नदी की बलखाती धारा मे समा गये। यह वाकया देख बाकी के तीन किशोर घबरा गये और शोर मचाते हुए गांव की ओर भागे, जैसे ही इस दर्दनाक घटना की जानकारी गांव वालों को हुई तो परिजनों के साथ साथ भारी संख्या में लोग नदी घाट पर पहुँच किशोरों की तलाश में जुट गये। 

उधर घटना की जानकारी होते ही जुगैल प्रभारी निरीक्षक विनोद कुमार सिंह पुलिस बल के साथ मौके पर किशोरों के तलाश में जुट गये। साथ ही मध्य प्रदेश के गढ़वा थाने की भी पुलिस मौके पर पहुँच गई। मौजूद लोगों की माने तो जिस स्थान पर किशोर डुबे हैं, वहां पर पुल निर्माण कार्य हो रहा है। जिसके चलते जगह जगह गहरे गढ्ढे हो गये हैं। साथ ही पानी का बहाव भी ज्यादा है। जिसके चलते तलाश में काफी मुश्किलें आ रही हैं। वहीं स्थानीय मछुआरे एवं ग्रामीणों की मदद से किशोरों की तलाश की जा रही है। परंतु नदी के बहाव व ज्यादा गहराई होने की वजह से तलाशी में काफी दिक्कत आ रही है। 

उधर परिजनों का रो रो के बूरा हाल है। किशोरों के डूबने की सूचना मिलते ही मौके पर चितरंगी विधायक अमर सिंह, जिलाधिकारी सिंगरौली राजीव रंजन मीणा, एसपी सिंगरौली वीरेंद्र कुमार सिंह, एसडीओ चंद्रशेखर पांडेय, एसडीएम चितरंगी नीलेश शर्मा, गढ़वा टीआई संतोष तिवारी, घोरावल एसडीएम जैनेंद्र सिंह भी पहुंच कर डूबे किशोरो की तलाश कराने में जुट गए थे। पुलिस के अनुसार समाचार दिए जाने तक घटनास्थल से लगभग दो किलोमीटर दूर सुईया बाहर नामक स्थान पर आनंद पुत्र लाल पति का शव बरामद कर लिया गया था।