ALL जनसंदेश एक्सक्लूसिव वाराणसी-चंदौली पूूर्वांचल इलाहाबाद लखनऊ कानपुर-गोरखपुर आगरा देश-विदेश सृजन मनोरंजन/लाइफस्टाइल
स्कूटी सवार महिला को टक्कर मारकर मदद की बजाय फरार हुए पुलिसवाले, आक्रोशित ग्रामीणों ने लगाया जाम, महिला गंभीर
August 6, 2020 • अजय सिंह उर्फ राजू • इलाहाबाद

आक्रोशित ग्रामीणों ने जाम लगाकर किया प्रदर्शन

ग्रामीणों ने पुलिस ने फायरिंग का लगाया आरोप, तीन खोखे बरामद  

जनसंदेश न्यूज 
सादात/गाजीपुर। थाना क्षेत्र के मजुई स्थित पेट्रोल पंप के निकट बुधवार की देर शाम पुलिस वाहन से धक्का लगने से स्कूटी सवार दो महिलाएं घायल हो गई। जिसमें एक का वाराणसी में उपचार चल रहा है, जबकि दूसरी महिला को अस्पताल से छुट्टी दे दी गई। हादसे के बाद पुलिस के वाहन सहित फरार होने को लेकर आक्रोशित ग्रामीणों ने रास्ता जाम कर दिया। इस दौरान फायरिंग करने का भी मामला प्रकाश में आया है। हालांकि पुलिस ने फायरिंग की बात से इनकार किया। लेकिन इतना जरूर है धरना स्थल से तीन खोखा कारतूस बरामद किया गया, जिसे पुलिस काफी पुराना बता रही है।
ग्राम मजुई दलित बस्ती निवासी गुड्डू राम की पत्नी मनभावती देवी मेहनाजपुर निवासिनी अपनी बहन रम्भा देवी पत्नी भुवाल राम के साथ बाजार से घर आ रही थी। स्कूटी चालक रम्भा के अनुसार सामने से पुलिस की गाड़ी को आते देख उसने अपनी स्कूटी को किनारे कर लिया, फिर भी पुलिस वाहन ने टक्कर मार दी। इसके बाद वह गाड़ी मौके से भी चली गई। पुलिस की वाहन के टक्कर से महिला सड़क पर गिरकर दर्द से छटपटाने लगी। 
पहले से मौजूद ग्रामीणों ने पुलिस की इस करतूत को देखकर आक्रोशित हो गए और सड़क पर जाम लगाकर धरना प्रदर्शन शुरू कर  दिया। प्रदर्शन की सूचना पर स्थानीय पुलिस के साथ ही शादियाबाद एसओ भी मौके पर पहुंच गए। उन्होंने ग्रामीणों को समझ बुझाकर किसी तरह मामला शांत कराया। इसके कुछ ही देर बाद मुसहर बस्ती के लोग प्रदर्शन करते हुए दोषी पुलिसकर्मियों को दंडित करने की मांग करने लगे। मामला बढ़ता देख अलर्ट पुलिस ने उच्चाधिकारियों का सूचना दे दी। 
सैदपुर सीओ और कोतवाल भी मय फोर्स मौके पर पहुंच गए। काफी हो हुज्जत के बाद करीब सवा दो घण्टे के बाद मामला शांत हुआ। इस दरम्यान प्रदर्शन कर रहे लोगों ने पुलिस को तीन खोखा कारतूस सौंपा, जिससे बारूद की गंध न आने के कारण पुलिस ने इसे काफी पुराना बताया। फिलहाल इस घटना से माहौल काफी तनावपूर्ण रहा। वहीं थानाध्यक्ष अगम दास ने बताया कि घायल दोनों महिलाओं का निजी चिकित्सक के यहां प्राथमिक उपचार कराने के बाद दोनों को सैदपुर सीएचसी पर भर्ती कराया गया। यहां से एक को छुट्टी दे दिया गया, जबकि दूसरी महिला को वाराणसी रेफर कर दिया गया।