ALL जनसंदेश एक्सक्लूसिव वाराणसी-चंदौली मीरजापुर-सोनभद्र-भदोही जौनपुर-गाजीपुर आजमगढ़-मऊ बलिया इलाहाबाद देश-विदेश करोना वायरस मनोरंजन/लाइफस्टाइल
शर्मनाक: भ्रष्ट स्वास्थकर्मियों ने महज 30 रुपये के लिए छह साल के मासूम से खिचवाया स्ट्रेचर
July 20, 2020 • जनसंदेश न्यूज • देश-विदेश


जनसंदेश न्यूज़
लखनऊ। यूपी के स्वास्थ्य व्यवस्था में सड़ चुकी स्वास्थ्य व्यवस्था का नजारा देवरिया में देखने को मिला। जहां भ्रष्टाचारी स्वास्थ्य कर्मियों के कारण एक छह साल के मासूम को स्ट्रेचर खिचना पड़ा। मरीज के परिजनों द्वारा महज 30 रुपये  ना दिये जाने पर स्वास्थ्य कर्मियों ने ऐसा करने पर मजबूर कर दिया। किसी ने इस पूरे मामले को वीडियो सोशल मीडिया पर डाल दिया। जिसके बाद अस्पताल पहुंचे डीएम ने संबंधित कर्मचारी के खिलाफ कार्रवाई करने का आदेश दिया। 
सूचना के मुताबिक देवरिया के बरहज क्षेत्र के गौरा गांव निवासी छेदी यादव पिछले दिनों मारपीट की एक घटना में घायल हो गए थे। उन्हें देवरिया जिला अस्पताल के सर्जिकल वार्ड में भर्ती कराया गया। उनकी बेटी बिंदू ने बताया कि अस्पताल में उन्हें ड्रेसिंग के लिए बीच-बीच में ड्रेसिंग रूम में ले जाना होता है।
बिंदू देवी ने बताया कि अस्पताल के कर्मचारी हर बार स्ट्रेचर के लिए 30 रुपए की मांग करते हैं। परिवार की स्थिति बार-बार इतने रुपए देने की नहीं थी, ऐसे में उन्होंने मना कर दिया। इसपर अस्पताल कर्मियों ने छेदी को ड्रेसिंग के लिए ले जाने से मना कर दिया।
उन्होंने कहा कि यदि 30 रुपए नहीं देने हैं तो मरीज को खुद ही ड्रेसिंग रूम ले जाना होगा। तब बिंदू अपने छह साल के बच्चे शिवम यादव की मदद से पिता को ड्रेसिंग रूम तक ले गईं। इसी दौरान किसी ने वीडियो बनाकर सोशल मीडिया में वायरल कर दिया। सीएमएस डॉ. छोटेलाल ने बताया कि ऐसी घटना उनकी जानकारी में नहीं है। अगर महिला से कोई रुपये की मांग कर रहा है तो वह शिकायत करें, कार्रवाई होगी। इस घटना का पता लगाया जा रहा है।