ALL जनसंदेश एक्सक्लूसिव वाराणसी-चंदौली पूूर्वांचल इलाहाबाद लखनऊ कानपुर-गोरखपुर आगरा देश-विदेश कोविड-19/देश-विदेश मनोरंजन/लाइफस्टाइल
शरजील को गलत तरीके से फंसा रही सरकार, छात्र नेताओं ने शीघ्र रिहाई की मांग
July 9, 2020 • अमित राय • लखनऊ



जनसंदेश न्यूज
आजमगढ़। शिब्ली और डीएवी पीजी कालेज के छात्रों ने गुरुवार को शरजील उस्मानी को फर्जी तरीके से फंसाने का आरोप लगाते हुए उसकी रिहाई की मांग की। छात्र नेताओं का कहना है कि शरजील उस्मानी शिब्ली नेशनल पीजी कालेज के भूगोल विभाग के विभागाध्यक्ष डा. तारिक उस्मानी का पुत्र है और एएमयू का छात्र है। उसे सीएए व एनआरसी के खिलाफ दंगा भड़काने तथा भीड़ उग्र करने का आरोप लगाते हुए गिरफ्तार कर संगीन धाराएं लगा दी गयी हैं। 
सेराज अहमद ने कहा कि उसे जल्द रिहा किया जाय। कमर कमाल ने कहा कि फर्जी गिरफ्तारियां बंद होनी चाहिए तथा निर्दाेष पर कार्यवाही बंद की जाय। तरूण सुल्तान ने कहा कि शरजील उस्मानी सीधा-साधा छात्र है उसकी गिरफ्तारी गलत तरीके से की गयी है। सरकार लगातार बेकसूरों को जेल में डाल रही है और आरोपियों को नहीं पकड़ रही है। इस मौके पर हरिकेश यादव, संजय निषाद, कामरान, अबू हमजा, अबू हासिम, अब्दुर्रहमान, मोक़ामरान, मंजर, अबू हासिम, मिफ्ता खान आदि मौजूद रहे।