ALL जनसंदेश एक्सक्लूसिव वाराणसी-चंदौली पूूर्वांचल इलाहाबाद लखनऊ कानपुर-गोरखपुर आगरा देश-विदेश सृजन मनोरंजन/लाइफस्टाइल
सेना में नौकरी दिलाने के नाम पर रिश्तेदार ने ही की धोखाधड़ी, बेरोजगार से लाखों हड़पा, दर्जनों से वसूला करोड़ों
August 27, 2020 • अजय सिंह उर्फ राजू • इलाहाबाद



जनसंदेश न्यूज 
गाजीपुर। नौकरी के नाम पर ठगी का मामला लगातार सामने आ रहा है। जालसाज बेराजगारी की महामारी में युवाओं को आसानी से शिकार बना ले रहे है। ऐसा ही एक मामला जखनियां तहसील के भुड़कुड़ा में सामने आया है। यहां सेना में नौकरी दिलाने के नाम पर जालसाजों ने एक परिवार से सवा पांच लाख रूपए की ठगी कर लिया है। यह ठग मऊ जनपद के चिरैयाकोट का निवासी है। युवक नजदीकी रिश्तेदार होने की वजह से कई लोगों को विश्वास में लेकर लाखो रूपए हड़प लिया है। इस मामले में पीड़ित ने एसपी से शिकायत कर न्याय की मांग किया है।  

भुड़कुड़ा निवासी संतोष चौहान पुत्र संल्टू चौहान से उनके बड़े पिता का दामाद  सुभाष चंद्र के बहन का लड़का मऊ जनपद के चिरैयाकोट निवासी दिलराम चौहान पुत्र भुवाल चौहान ने सन 2019 में नौकरी दिलाने के नाम पर सवा पांच लाख रूपए ले लिया। पीड़ित संतोष ने बताया कि दिलराम चौहान आईटीबीपी में नौकरी करता है। वह नौकरी दिलाने के नाम पर गांव के कई लोगों से मिला। उसकी बात में आकर बेरोजगारी की हालात में सभी लोगों ने रूपए देने का फैसला किया। 

लिहाजा दिलराज को पचास हजार नगद तथा फरवरी 2019 में  चार लाख 75 हजार एकाउंट में ट्रांसफर कर दिया गया। शेष पैसा नौकरी मिलने के बाद देने को कहा गया। लेकिन एक वर्ष बाद भी नौकरी नहीं दिला पाया। जब उससे दिए गए रकम की मांग किया गया तो वह टाल मटोल करने लगा। इसके गांव से पता चला कि यह धोखेबाज किस्म का व्यक्ति है, इसी प्रकार सभी लोगों से नौकरी के नाम पर पैसे लेता रहता है। 

हालांकि, नौकरी के नाम पर देने वाले इसी गांव के और लोग भी है, जिनका पैसा हड़प लिया है। लेकिन वह पुलिस कार्रवाई से बच रहें है कि हमारा पैसा डूब ना जाय। बताया जा रहा है कि दिलराम चौहान औड़िहार, जखनियां, सरसेना आदि जगहों के दर्जनों युवकों से नौकरी के नाम पर करोड़ों रूपए लिया है। इस प्रकरण को लेकर पीड़ित ने पुलिस अधीक्षक से उक्त जालसाज के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर पैसा दिलाने की मांग किया है।