ALL जनसंदेश एक्सक्लूसिव वाराणसी-चंदौली मीरजापुर-सोनभद्र-भदोही जौनपुर-गाजीपुर आजमगढ़-मऊ बलिया इलाहाबाद देश-विदेश करोना वायरस मनोरंजन/लाइफस्टाइल
साहब! पापा से है हमारे जान को खतरा....प्रेमी संग थाने पहुंची प्रेमिका ने लगाई गुहार, जानें फिर क्या हुआ?
June 29, 2020 • अजय सिंह उर्फ राजू • जौनपुर-गाजीपुर


पुलिस ने दोनों पक्षों के परिजनों को बुलाकर किया समझौता  

जनसंदेश न्यूज 
सुहवल/गाजीपुर। थाना क्षेत्र स्थित एक गांव की युवती अपने पिता से जान के खतरे को लेकर प्रशासन से खुद एवं प्रेमी की जान बचाने की गुहार लगाई है। पुलिस ने दोनों पक्षों के परिजनों को थाने बुलाकर आपसी सुलह समझौते के बाद युवक एवं युवती को उनको सुपुर्द कर दिया। जिसके बाद सभी अपने-अपने घर चले गये।
थाना क्षेत्र स्थित गांव निवासी युवती जिलें के महाविद्यालय में बीए की छात्रा है।  उसका अपने ही गांव के स्वजातीय युवक से आखें चार हो गई। इस दौरान दोनों का छिप-छिपकर मिलना जारी रहा। इसी बीच युवक कमाने दिल्ली चला गया। प्रेमी के दिल्ली जाने के बाद छात्रा ने प्रेमी पर गांव आने का दबाव बनाया लेकिन वह पैसे कमाने की बात कह कर बात टाल गया। लेकिन प्रेमिका अपने प्रेमी से ज्यादा दिन तक अकेलापन सह नहीं सकी और अपने घर के परिजनों को ट्यूशन पढ़ने की बात कह प्रेमी से मिलने के लिए दिल्ली पहुंच गई। इधर युवती के काफी दिनों से घर न पहुंचने से परिजन बेचौन होने लगे। 
दरअसल, छात्रा के पास कोई मोबाइल नहीं था इसलिए परिजन काफी परेशान हो गए। हालांकि छात्रा ने प्रेमी को खोजने के लिए महिला राहगीर की मोबाइल से फोन किया। जिसके बाद बताए गए स्थान पर दोनों की मुलाकात हुई। उसके बाद प्रेमी ने फोन कर उसके परिजनों को सूचना दिया। फिर दोनों ट्रेन से अपने गांव पहुंचे। 
छात्रा के अनुसार उसने पुलिस को बताया कि उसके परिजन उसे बेवजह प्रताडित करने के साथ ही मारपीट करते है, जान से मारने की धमकी देते है। प्रेमी-प्रेमिका ने पुलिस को बताया कि वह दोनों शादी को राजी है, लेकिन परिजन राजी नहीं है। जबकि वह खुद बालिग है। प्रभारी थानाध्यक्ष धिरेन्द्र प्रताप सिंह ने बताया कि थाने आए दोनों युवक युवती के परिजन आपसी सुलह समझौते बाद कड़ी चेतावनी देकर छोड़ दिया गया है।