ALL जनसंदेश एक्सक्लूसिव वाराणसी-चंदौली पूूर्वांचल इलाहाबाद लखनऊ कानपुर-गोरखपुर आगरा देश-विदेश सृजन मनोरंजन/लाइफस्टाइल
प्रधानों ने डीपीआरओ के खिलाफ खोला मोर्चा, निंदा प्रस्ताव पारित, नहीं सुधरे तो होगा बड़ा आंदोलन!
June 22, 2020 • अजय सिंह उर्फ राजू • इलाहाबाद



जनसंदेश न्यूज 
गाजीपुर। ग्राम प्रधानों ने प्रशासनिक स्तर से किए जा रहे उत्पीड़न के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। जिला ग्राम प्रधान संघ की बैठक सोमवार को अध्यक्ष भयंकर यादव की अध्यक्षता में हुई जिसमें डीपीआरओ के खिलाफ सदस्यों ने निंदा प्रस्ताव रखा। सदन ने एक स्वर से डीपीआरओ के खिलाफ निंदा प्रस्ताव पास कर दिया। प्रधानों ने चेतावनी दी कि डीपीआरओ ने अपना रवैया नहीं बदला तो आंदोलन करने से भी पीछे नहीं हटेंगे। प्रधानों ने कहा कि पंचायत राज विभाग के अधिकारियों के कारण गांवों में विकास ठप है।
जिला ग्राम प्रधान संगठन की बैठक सोमवार को विकास भवन में हुई। जिसमें जिले के समस्त जिला पदाधिकारी उपस्थित रहे। बैठक में जिला पंचायत राज अधिकारी एके सिंह द्वारा ग्राम प्रधानों के ऊपर किए गए गलत टिप्पणी, उत्पीड़न और अभद्र व्यवहार के विरुद्ध आक्रोश व्यक्त करते हुए निंदा प्रस्ताव पारित किया गया। बैठक में जिलाध्यक्ष भयंकर यादव ने कहा कि अगर जिले का कोई अधिकारी ग्राम प्रधानों के साथ अभद्र व्यवहार व उत्पीड़न करता है तो कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। अगर ऐसे अधिकारी अपना रवैया नहीं सुधारते हैं तो बड़ा आंदोलन कर  जिले के सारे कार्यों को ठप कर दिया जाएगा। 
बैठक में जिला अध्यक्ष भयंकर यादव ने कहा कि इस मुद्दे के खिलाफ जिले के ग्राम प्रधानों द्वारा एक समिति का गठन किया गया है जो ग्राम प्रधानों के सम्मान की लड़ाई लड़ने के लिए रणनीति तय करेगी उसी रणनीति के तहत जिला पंचायत राज अधिकारी के साथ साथ उन सभी अधिकारियों के विरुद्ध आंदोलन  करने का निर्णय लिया जाएगा। जो ग्राम प्रधानों का उत्पीड़न व अपमान करने की चेष्टा करते हैं। संगठन के प्रदेश महासचिव जिला संरक्षक समीम सिद्धकी ने कहा कि जांच के नाम पर फर्जी तरीके से ग्राम प्रधानों का शोषण किया जा रहा है। जो कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। जनपद के सभी ब्लॉक अध्यक्ष अपनी बातों को रखने का काम किए बैठक का संचालन जिला महामंत्री आकाश राजभर ने किया। 
बैठक में मुख्य रूप से ब्लॉक अध्यक्षगण दीपकसिंह, रमेशयादव, योगेश यादव, वेदप्रकाश, योगेश यादव, अशोक यादव, जयराम सिंह, मोती यादव, सियाराम यादव, हरिकेश यादव, मुन्ना राजभर, संतोष कुशवाहा, रजनीश यादव, सत्येंद्र राय, उपेंद्र राय आदि तमाम सैकड़ों ग्राम प्रधान उपस्थित रहे।