ALL जनसंदेश एक्सक्लूसिव वाराणसी-चंदौली मीरजापुर-सोनभद्र-भदोही जौनपुर-गाजीपुर आजमगढ़-मऊ बलिया इलाहाबाद देश-विदेश करोना वायरस मनोरंजन/लाइफस्टाइल
प्रधानमंत्री किसान सम्मान योजना में डाटा संशोधन को गांवों में चार अगस्त से लगेगा कैंप 
August 1, 2020 • सुरोजीत चैटर्जी • वाराणसी-चंदौली

- प्रधानमंत्री किसान सम्मान योजना में पंजीकृतों का होगा सत्यापन

- ग्रामसभावार, न्याय पंचायतवार शिविर लगाने को कर्मचारी तैनात

जनसंदेश न्यूज
वाराणसी। प्रदेश सरकार ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये ‘वैज्ञानिकों की बात किसानों के साथ’ प्रधानमंत्री किसान सम्मान योजना में संशोधन के लिए उपलब्ध अवशेष डाटा जल्द से जल्द संशोधित करने तथा ओपन सोर्स में हुए पंजीकरण का सत्यापन कराने को कहा है। साथ ही निर्देश दिया है कि प्रत्येक ग्राम पंचायत में कैंप लगाकर इनवैलिड आधार संशोधन, आधार मिसमैच संशोधन एवं ओपेन सोर्स में कराये गये पंजीकरण का सत्यापन प्राथमिकता से कराएं।
उप निदेशक कृषि निदेशक डॉ. राजीव कुमार ने जानकारी देते हुए बताया कि वाराणसी जनपद में कार्यरत विभागीय सभी क्षेत्रीय कार्मिकों की ड्यूटी चार अगस्त से ग्राम व न्याय पंचायतवार लगायी गयी है। उन शिविरों के दौरान कोविड-19 को ध्यान में केंद्र व राज्य सरकार के दिशा-निर्देशों का पालन करना होगा।
उन्होंने बताया कि संबंधित शिविरों में डाटा संशोधन समेत पंजीकरणों का सत्यापन होगा। कैंप में इस कार्य के तहत ऐसे पंजीकृत किसानों के नाम निरस्त कर दिये जाएंगे जिनकी मृत्यु हो चुकी है। डॉ. राजीव कुमार किसानों से अपील की है कि वह अपना प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि की डाटा में खामियों का समाधान उन शिविरों में करा लें।