ALL जनसंदेश एक्सक्लूसिव वाराणसी-चंदौली पूूर्वांचल इलाहाबाद लखनऊ कानपुर-गोरखपुर आगरा देश-विदेश सृजन मनोरंजन/लाइफस्टाइल
प्रभारी राज्यमंत्री अधिकारियों संग की बैठक, इस संबंध में स्कूल के प्रबंधकों को जारी किया नोटिस
August 12, 2020 • रोशन जायसवाल • इलाहाबाद

15 अगस्त से पानी बढ़ने की संभावना, सभी अधिकारियों की छुट्टी निरस्त

बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में 24 घंटे होगी पेट्रोलिंग, आवश्यकता पड़ने पर ड्रोन कैमरा का होगा इस्तेमाल

जनसंदेश न्यूज़
बलिया। जिले के प्रभारी मंत्री अनिल राजभर ने मंगलवार को कलेक्ट्रेट सभागार में बाढ़ राहत सम्बन्धी तैयारियों को लेकर अधिकारियों के साथ बैठक की। उन्होंने विभिन्न परियोजनाओं के बारें में बारी-बारी से जानकारी ली। इस दौरान प्रभारी मंत्री को जिले में बनायी गयी 61 बाढ़ चौकियों के बारे में जानकारी दी गई। 
प्रभारी मंत्री ने बताया कि मुख्यमंत्री का सख्त निर्देश है कि बाढ़ वाले इलाकों में 24 घंटे पेट्रोलिंग की जाय। 15 अगस्त से पानी बढ़ने की संभावना है। आवश्यकता पड़ने पर ड्रोन कैमरा का इस्तेमाल करने, सभी अधिकारियों की छुट्टी निरस्त करने, बाढ़ वाले क्षेत्रों से सूचना मिलने पर तत्काल मुआयना करने का निर्देश दिया। कहा कि बाढ़ से संबंधित जितने कंट्रोल रूम हैं वहां पर कर्मचारियों की प्रतिदिन सामान्य ड्यूटी लगाई जाए। सभी एसडीएम को इंगित करते हुए कहा कि बाढ़ से प्रभावित इलाकों में जो नाव लगायी जाय उस पर क्षमता के अनुसार ही बैठाए। तटबंधों की प्रतिदिन पेट्रोलिंग करने, बाढ़ से पीड़ित व्यक्तियों में वितरण करने वाले राहत सामग्री को पहले चेक करके विधायकगण की देखरेख में राहत सामग्री वितरण कराया जाय।
श्री राजभर ने सभी स्कूलों के प्रबंधकों को नोटिस जारी करने को कहा ताकि स्कूलों पर बाढ़ राहत शिविर बनाया जा सके। बाढ़ प्रभावित लोगों में बीमारियों की संभावना को देखते हुए उन्होंने सीएमओ को सख्त निर्देश दिया कि अपने मेडिकल टीमों के साथ प्राप्त मात्रा में तैयारी रखें। क्योंकि पानी घटने पर कई प्रकार की बीमारियां फैलने की संभावना होती है। पहले से पशुओं का टीकाकरण और चारा की तैयारी रखें। एनडीआरएफध्पीएसी की तैनाती, होमगार्डों की सूची तैयार रखने और उनको भी अवगत करानें के निर्देश दिये।
कहा कि सुरहाताल व कटहल नाला के पानी के चलते लगभग दो दर्जन गांव प्रभावित है। इस नाले को कार्य कराने के लिए विशेष जोर देने को कहा और कार्य में लापरवाही बरतने पर नगरपालिका के ईओ पर नाराजगी जताई। 19 अगस्त तक तुलनात्मक रिपोर्ट तैयार करके उपलब्ध कराने को कहा। विजयीपुर से महावीर घाट के बीच जिन किसानों की फसलें नष्ट होती हैं उनको मुआयजा देने को कहा।
बैठक में राज्यमंत्री मंत्री आनंद स्वरूप शुक्ल, जिलाधिकारी श्रीहरि प्रताप शाही, भाजपा जिलाध्यक्ष जयप्रकाश साहू, भाजपा विधायक सुरेंद्र नाथ सिंह, केतकी सिंह, रामजी सिंह, सीडीओ विपिन कुमार जैन, एसडीएम दुष्यंत कुमार मौर्य, तहसीलदार गुलाबचन्द्रा व अधिकारीगण उपस्थित रहे।