ALL जनसंदेश एक्सक्लूसिव वाराणसी-चंदौली पूूर्वांचल इलाहाबाद लखनऊ कानपुर-गोरखपुर आगरा देश-विदेश सृजन मनोरंजन/लाइफस्टाइल
नौकरी दिलाने के नाम पर किशोरी को देह व्यापार में धकेला, बनारस में ब्यूटी पार्लर के आड़ में कराया जाता था वेश्वावृत्ति
August 28, 2020 • संजय दूबे • पूूर्वांचल



जनसंदेश न्यूज
मीरजापुर। जिले में सेक्स रैकेट चलाने वालों का गैंग सक्रिय है। इसका खुलासा पुलिस ने नहीं पीड़िता ने खुद रामनगर थाने पर गत दिनों जाकर किया। चुनार थाना क्षेत्र से नौकरी के नाम पर सेक्स रैकेट में धकेली गई 15 वर्षीय नाबालिग करीब दो माह बाद भागकर पुलिस के पास पहुंची और दास्तांन सुनाया। उसे जबरन ड्रग्स, ड्रिंक्स देकर ब्यूटी पार्लर के आड़ में देह व्यापार के धंधे में ढकेल दिया गया था। 21 जुलाई को पुलिस आईपीसी की धारा 363 में मामला दर्ज करने के बाद भी उससे दूर थी। पीड़िता के बयान के बाद 376, 366 के साथ ही पॉस्को एक्ट की धारा भी लगा कर आरोपियों की तलाश की जा रही है। 

नौकरी दिलाने के नाम पर नाबालिग लड़की को वाराणसी में बंधक बना कर जबरन वेश्यावृत्ति कराया जाता था। लड़की को मारने पीटने के साथ ही नशा भी दिया जाता था। पीड़िता का सिविल कोर्ट में 164 का मजिस्ट्रेटिल बयान हुआ। नाबालिग लड़की को जबरन बंधक बना कर वेश्यावृत्ति का मामला सामने आने के बाद हड़कंप मचा हुआ है। पीड़ित लड़की की उम्र महज 15 साल बताई जा रही है। मां की मानसिक हालत ठीक नहीं है। 

पीड़िता को उसके घर से 12 जून 2020 को रात 9 बजे के करीब लापता हो गयी। लड़की के परिजनों ने उसके लापता होने की जानकारी चुनार थाने को दिया। इस बीच लड़की वाराणसी पहुंच गयी। परिजनों को दो महीने बाद 15-16 अगस्त को चुनार थाने से सूचना मिली कि लड़की वाराणसी के रामनगर थाने में मौजूद है। परिजन पीड़ित लड़की वहां से घर लेकर आये। तब लड़की ने अपने साथ हुई हैवानियत के बारे में परिजनों को बताया। 

परिजनों के मुताबिक पड़ोस की एक लड़की उसे रामनगर में ब्यूटी पार्लर पर नौकरी दिलाने के नाम पर गुमराह कर घर से गयी। जहां पर उसे बंधक बना कर कमरे में रखा गया। इस दौरान उसे नशीली चीज खिलाई गयी और शराब भी पिलाई और उसके साथ दुष्कर्म हुआ। दो महीनों तक उसको वेश्यावृत्ति करवाई गयी। परिजनों के मुताबिक इन दो महीनों में उसके साथ दुष्कर्म कर प्रताड़ित किया गया। लड़की किसी तरह से चंगुल से बच कर भाग कर रामनगर थाने पहुची। पीड़ित लड़की का सिविल कोर्ट में 164 का मजिस्ट्रियल बयान दर्ज करवाया गया है।
 
इस संबंध में एसपी नक्सल, महेश सिंह अत्रि का कहना है कि इस मामले में 21 जुलाई 2020 को मुकदमा दर्ज हुआ था। लड़की के बयान के बाद  दुष्कर्म और पास्को एक्ट की धारा भी जोड़ दी गयी है।