ALL जनसंदेश एक्सक्लूसिव वाराणसी-चंदौली मीरजापुर-सोनभद्र-भदोही जौनपुर-गाजीपुर आजमगढ़-मऊ बलिया इलाहाबाद देश-विदेश करोना वायरस मनोरंजन/लाइफस्टाइल
ना कोई बीमारी, ना कोई आपदा, अचानक हुए अचेत और इलाज के दौरान हो गई दो सगे भाइयों की मौत, मचा हड़कंप
July 16, 2020 • शशिकांत चौेबे • मीरजापुर-सोनभद्र-भदोही



जनसंदेश न्यूज़
खलियारी/सोनभद्र। रायपुर थाना क्षेत्र के ग्राम पंचायत खलियारी में गुरुवार की सुबह संदिग्ध हाल में अचेत हुए दो सगे भाइयों की मौत हो गई। उपचार के लिये दो निजी चिकित्सको के पास उन्हें ले जाया गया लेकिन व वे बीमारी नही बता सके और मासूमों की मौत हो गई।
खलियारी गांव निवासी धर्मेन्द्र यादव स्थानीय बाजार में ढेला पर बाटी चोखा की दुकान लगाकर जीवन यापन करते है। बुधवार की सुबह आठ बजे धर्मेन्द्र के तीनों बच्चे गांव गली मे खेल रहे थे। जब घर आए तो तीन में से दो बच्चों की हालत बिगड़ने लगी और वें कुछ देर बाद अचेत हो गए। परिजन दोनों को लेकर दो निजी चिकित्सक के पास पंहुचे लेकिन दोनों डॉक्टर उनकी बीमारी के बारे में नही बता सके और हालात गंभीर होने की बात कहकर बड़े अस्पताल ले जाने की सलाह दे दी।
परिजन दूसरे अस्पताल ले जा रहे थे कि कुछ अंतराल पर दोनों की सांसे थम गई। इसमें अभिषेक 12 वर्ष अमित 10 वर्ष की मौत हुई है। परिजन शव लेकर गांव पंहुचे तो कोहराम मच गया। परिवार व गांव के लोग
परेशान है कि बच्चों को न कोई बीमारी और न ही कोई दैवी आपदा फिर आखिर मौत की क्या वजह है। परिजनों ने दोनों का दाह संस्कार कर दिया। वहीं मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ एस के उपाध्याय ने बताया कि यदि दोनों शवों का पोस्टमार्टम होता तो मौत की वजह खुलती।