ALL जनसंदेश एक्सक्लूसिव वाराणसी-चंदौली मीरजापुर-सोनभद्र-भदोही जौनपुर-गाजीपुर आजमगढ़-मऊ बलिया इलाहाबाद देश-विदेश करोना वायरस मनोरंजन/लाइफस्टाइल
मणि मंजरी केस: 20 जुलाई से खंगाले जायेंगे नगर पंचायत के अभिलेख, तीन सदस्यीय टीम गठित
July 18, 2020 • रोशन जायसवाल • बलिया



जनसंदेश न्यूज़
बलिया। मनियर नगर पंचायत की अधिशासी अधिकारी मणि मंजरी राय की मौत के मामले में नगर पंचायत से जुड़े अभिलेखों को खंगालने का कार्य 20 जुलाई से शुरू हो जायेगा। अपर पुलिस महानिदेशक डॉ सुनील गुप्ता ने भी शनिवार को इस मामले में विवेचना कार्य की प्रगति की जानकारी ली।
मनियर नगर पंचायत की अधिशासी अधिकारी मणि मंजरी राय का बुधवार को त्रयोदशाह रहा। घटना के 13 दिन बाद भी पुलिस के हत्थे वाहन चालक चंदन वर्मा ही आया है। अन्य आरोपी पुलिस की पकड़ से दूर हैं। मुकदमा से जुड़े तथ्यों की समीक्षा, सी डी आर तथा सर्विलांस के जरिये पुलिस मामले की तह तक पहुंच गई है। 
जिला मुख्यालय स्थित कलेक्ट्रेट के नगर निकाय महकमे से जुड़े अभिलेख को खंगाला जा चुका है। पुलिस की नजर अब मनियर नगर पंचायत के अभिलेखों पर टिकी हुई है। सब कुछ ठीकठाक रहा तो 20 जुलाई को मनियर नगर पंचायत पर अभिलेखों को खंगाला जाएगा। इसके लिए जिलाधिकारी हरि प्रताप शाही ने तीन सदस्यीय समिति गठित कर दी है। पुलिस के अनुरोध पर गठित इस समिति में उप जिलाधिकारी बांसडीह, पुलिस उपाधीक्षक शहर व बलिया कोतवाली के प्रभारी हैं।
बांसडीह के उप जिलाधिकारीही मणि मंजरी की मौत के बाद मनियर नगर पंचायत के अधिशासी अधिकारी का अतिरिक्त प्रभार सम्भाल रहे हैं। प्रदेश शासन के निर्देश पर बलिया पहुंचे अपर पुलिस महानिदेशक, दूरसंचार डॉ सुनील गुप्ता ने भी मनियर नगर पंचायत की अधिशासी अधिकारी मणि मंजरी राय की मौत के मामले में जानकारी ली। उन्होंने पुलिस अधीक्षक देवेंद्र नाथ से विवेचना में अब तक हुई प्रगति की जानकारी ली। 
पुलिस अधीक्षक ने अपर पुलिस महानिदेशक को सी डी आर खंगालने से लेकर सर्विलांस की जांच व मुकदमा में आये सभी तथ्यों की जानकारी दी। यह दीगर है कि जब पत्रकारों ने इस मसले पर अपर पुलिस महानिदेशक से जानकारी मांगी तो वह कन्नी काट गये तथा कोई प्रतिक्रिया व्यक्त नही किया। मणि मंजरी के परिजनों को कल पूर्व केंद्रीय मंत्री मनोज सिन्हा ने उच्च स्तरीय जांच के लिए अपने स्तर से हस्तक्षेप करने का भरोसा दिलाया है। 
पूर्व केंद्रीय मंत्री कल मणि मंजरी के पैतृक गांव पहुँचे थे तथा उन्होंने अपनी संवेदना प्रकट किया। इस मौके पर परिजनों ने मुकदमे की जांच को लेकर बलिया पुलिस की कार्रवाई पर असंतोष व्यक्त किया तथा मामले की सी बी आई से जांच कराने का आग्रह किया। उल्लेखनीय है कि मणि मंजरी के भाई विजया नन्द राय ने सी बी आई जांच के लिए जिलाधिकारी को प्रत्यावेदन दिया है तथा इसके लिए सुप्रीम कोर्ट का सहारा लेने व एस एल पी दाखिल करने की जानकारी दी है।