ALL जनसंदेश एक्सक्लूसिव वाराणसी-चंदौली पूूर्वांचल इलाहाबाद लखनऊ कानपुर-गोरखपुर आगरा देश-विदेश सृजन मनोरंजन/लाइफस्टाइल
कोरोना से लड़ने के लिए रामबाण है योग, एनडीआरएफ के रेस्क्यूअर्स ने परिवार सहित किया योग
June 21, 2020 • जनसंदेश न्यूज • वाराणसी-चंदौली


जनसंदेश न्यूज़
वाराणसी। कोरोना माहमारी से जूझ रहे पूरे विश्व ने एक बार फिर से छठवें अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर अपनी पूरी निष्ठा दिखाते हुए उत्साह पूर्वक मनाया। इसी कड़ी में 11वीं एनडीआरएफ ने अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर वाराणसी वाहिनी परिसर और प्रदेश के अन्य जिलों में तैनात टीमों ने सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखते हुए विभिन्न आसन, प्राणायाम और ध्यानमुद्रा आदि का अभ्यास किया। इस दौरान कोरोना माहमारी के चलते “घर में योग” कार्यक्रम के तहत एन.डी.आर.एफ़. के रेस्कुएर्स ने अपने-अपने घरों में परिवार के साथ भी योग किया।


योग के माध्यम से एनडीआरएफ ने यह संदेश दिया कि आज समय आ गया है कि लोगों को योग और प्राणायाम के महत्व को और अच्छे से समझें, जिससे की इस वैश्विक माहमारी से लड़ने के लिए अपने अंदर की रोग-प्रतिरोधक क्षमता व शारीरिक स्वास्थ्य को बेहतर बना सके। योग सिर्फ व्यायाम के बारे में ही नहीं बल्कि कोरोना जैसी माहामारी से लड़ने के लिए हमें शारीरिक व मानसिक शक्ति भी प्रदान करता है।  
योग दिवस पर एनडीआरएफ के गोरखपुर, भोपाल और वाराणसी की टीमों ने विभिन्न प्रकार के प्राणायाम और आसनों का अभ्यास किया। जिसमें एनडीआरएफ के अफसर, सबोर्डिनेट अफसर और अन्य रेस्क्यूअर्स आदि ने भाग लिया।