ALL जनसंदेश एक्सक्लूसिव वाराणसी-चंदौली मीरजापुर-सोनभद्र-भदोही जौनपुर-गाजीपुर आजमगढ़-मऊ बलिया इलाहाबाद देश-विदेश करोना वायरस मनोरंजन/लाइफस्टाइल
कोरोना संकट के बीच डा. जितेन्द्र पाल बने बलिया के नये सीएमओ, भ्रष्टाचार के आरोप में फंसे पीके मिश्र गये गोंडा
July 17, 2020 • रोशन जायसवाल • बलिया



जनसंदेश न्यूज़
बलिया। कोविड-19 महामारी के दौर में भ्रष्टाचार को लेकर हटाये गये मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. प्रीतम कुमार मिश्र के जगह पर डा. जितेन्द्र पाल को बलिया का नया सीएमओ बनाया गया है। आपको बता दें कि जनपद में इन दिनों कोरोना कहर मचाये हुए है, ऐसे समय में नये सीएमओ को कोरोना वायरस के संकट से निटपना किसी चुनौती से कम नहीं होगा। दूसरी तरफ डा. पीके मिश्र को गोंडा में नवीन तैनाती दी गई है।
ज्ञातव्य हो कि बलिया के मुख्य चिकित्सा अधिकारी डाॅ. प्रीतम कुमार मिश्र के ऊपर शासनादेश की धज्जियां उड़ाते हुए कोविड-19 से बचाव के दौरान बगैर टेंडर व विज्ञापन के एक सरकारी चिकित्सक के नजदीकी रिश्तेदार के होटल को अधिक दर पर खान-पान आपूर्ति की भुगतान के आरोप के साथ ही ब्लाक कार्यक्रम प्रबंधक को शासनादेश की अनदेखी कर अधिक मानदेय भुगतान का भी आरोप है। 
सीएमओ के भ्रष्टाचार को लेकर जिला प्रशासन को साक्ष्य सहित लिखित शिकायत दिया गया था, जिसपर राज्य मंत्री आनंद स्वरूप शुक्ल ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से शिकायत की थी। जिसके बाद सीएम ने बलिया के मुख्य चिकित्सा अधिकारी व महिला चिकित्सा अधीक्षक को हटाने का निर्देश दिया था।