ALL जनसंदेश एक्सक्लूसिव वाराणसी-चंदौली पूूर्वांचल इलाहाबाद लखनऊ कानपुर-गोरखपुर आगरा देश-विदेश कोविड-19/देश-विदेश मनोरंजन/लाइफस्टाइल
किशोरी ने फांसी लगाकर दी जान, मां ने कहा, प्रेमी की शादी तय होने से दुखी थी बेटी!
July 2, 2020 • शशिकांत चौबे • पूूर्वांचल



जनसंदेश न्यूज़
बभनी/सोनभद्र। स्थानीय थाना क्षेत्र के नधिरा गांव में गुरुवार की शाम लगभग पांच बजे एक किशोरी ने घर से तीन सौ मीटर दूर महुआ के पेड़ में दुपट्टा के सहारे फांसी लगाकर अपनी इहलीला समाप्त कर ली। घटना से क्षेत्र में सनसनी फैल गयी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने फांसी के फंदे को कटवा कर शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र दुद्धी भिजवा दिया। 
सोनम उम्र 14 वर्ष पुत्री स्व बैजनाथ निवासी नधिरा गुरुवार को किसी बात से क्षुब्ध होकर घर से तीन सौ मीटर दूर जाकर एक नाले में महुए के पेड़ में अपने दुपट्टे के सहारे फांसी लगा ली। उस समय उसकी मां और बहन पड़ोस में ही अन्नप्रासन समारोह में गयी हुई थी। जब वह घर आई तो खोजने लगी। जब वह खोजते हुए नाले की तरफ बढ़ने लगी तो महुए के पेड़ से लटकता हुआ शव दिखाई दिया। मां दशमत देवी ने बताया कि मेरी लड़की पिपराखांड में अपने मौसा के घर रहती थी। उसी समय से गांव के ही एक लड़के के साथ प्रेम प्रपंच चल रहा था। लड़के ने मेरी लड़की से शादी करने के लिए कहा था। उसकी मां ने बताया कि आज उस लड़के का हल्दी मंडप है। मेरी लड़की को इसकी खबर लग गई, शायद वह इसी कारण फांसी लगाकर अपनी इहलीला समाप्त कर दी। घटना की सूचना ग्राम प्रधान राजेंद्र प्रसाद ने पुलिस को दिया। सूचना पर पहुंचे सब इंस्पेक्टर संजय कुमार पाल ने शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र दुद्धी भिजवा दिया। बता दे कि नौ माह पूर्व युवती के पिता ने भी घर मे फाँसी लगाकर जान दे दी थी। मौके पर पहुची पुलिस घटना की जांच पड़ताल मे जुट गयी है।