ALL जनसंदेश एक्सक्लूसिव वाराणसी-चंदौली पूूर्वांचल इलाहाबाद लखनऊ कानपुर-गोरखपुर आगरा देश-विदेश सृजन मनोरंजन/लाइफस्टाइल
खेत से लौट रहे तीन चचेरे भाइयों की पानी भरे गढ्ढे में डूबने से मौत, उतराने के बाद मिला शव
June 28, 2020 • जनसंदेश न्यूज • देश-विदेश


जनसंदेश न्यूज़
लखनऊ। यूपी के सीतापुर में एक बड़ी घटना हुई। जहां खेत से रोपाई कर लौट रहे तीन बच्चों की गढ्ढे में डूबने से मौत हो गई। देर रात जब बच्चे नहीं लौटे तो परिजन परेशान हो उठे। ढूढ़ते-ढूंढ़ते जब वें खेतों की तरफ गये तो गढ्ढे में तीनों बच्चों के शव उतराते दिखे। घटना से पूरे गांव में मातम छा गया। वहीं परिजनों के आंसू रूकने का नाम ही नहीं ले रहे। 
जनपद के के तांबौर थाना क्षेत्र के सिरहाना निवासी सगे भाई विजयपाल, नंदलाल और हरिनाम का गांव में ही खेत है। जहां शनिवार को रोपाई का कार्य चल रहा था। तीनों भाई के पुत्र दिलीप, अंकित और दिनेश खेतों में धान की रोपाई में लगे हुए थे। खेतों पर काम समाप्त होने के बाद वें तीनों घर के लिए निकलें। रास्ते में पेट्रोल पंप के पास खेतों में मिट्टी खुदाई के गड्ढे थे, जिनमें पानी भरा था। सूचना के मुताबिक तीनों गड्ढों का अंदाजा नहीं लगा पाए और एक साथ फिसलकर गहराई में चले गए। आस पास कोई मौजूद भी नहीं था, जिससे तीनों डूब गए। 
इधर बच्चे जब देर शाम तक घर नहीं पहुंचे तो पजिजन ढूंढ़ते-ढूंढ़ते खेतों की तरफ निकले। जहां रात लगभग साढ़े नौ बजे बच्चों के शव गड्ढे में उतराते मिले। ग्रामीणों ने शवों को बाहर निकाला। शव गांव में पहुंचे तो कोहराम मच गया। रविवार की सुबह परिवारजन ने बच्चों के शवों का अंतिम संस्कार किया। तीनों बच्चों के पिता आपस में सगे भाई थे।