ALL जनसंदेश एक्सक्लूसिव वाराणसी-चंदौली मीरजापुर-सोनभद्र-भदोही जौनपुर-गाजीपुर आजमगढ़-मऊ बलिया इलाहाबाद देश-विदेश करोना वायरस मनोरंजन/लाइफस्टाइल
कांटेक्ट ट्रेसिंग में आये लोगों का सैंपल टेस्ट अनिवार्य, डीएम बोले, ‘अर्ली डिटेक्शन-अर्ली कैचिंग’ अवधारणा पर टीमें करेंगी कार्य
August 1, 2020 • सुरोजीत चैटर्जी • वाराणसी-चंदौली

- जिलाधिकारी ने लैब टेक्नीशियन, कंप्यूटर ऑपरेटर आदि को दिए निर्देश

- कहा: कांटेक्ट ट्रेसिंग वालों ने जांच नहीं करायी तो होगी सख्त कार्रवाई

- सैंपल कलेक्शन टीम की मदद को लगेंगे पशु चिकित्सा विभाग के स्टाफ

- सर्वे टीम की आंगनवाड़ी और आशा कार्यकत्रियों का भी कराएंगे परीक्षण

जनसंदश न्यूज़
वाराणसी। जनपद में कोरोना संबंधी सैंपल कलेक्शन में लगे कर्मचारियों की मदद के लिए पशु चिकित्सा विभाग के स्टाफ लगाए जाएंगे। प्रत्येक प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर पर एक डाटा इंट्री ऑपरेटर तैनात कर आंकड़ों की फीडिंग का कार्य होगा। जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने शनिवार को कैंप कार्यालय सभागार में आयोजित बैठक में यह निर्देश दिये।
मीटिंग में लैब टेक्नीशियन, कंप्यूटर ऑपरेटर एवं पशु चिकित्सा विभाग के कर्मचारी उपस्थित रहे। डीएम ने लैब टेक्नीशियनों को निर्देश दिया कि प्रत्येक दिन सुबह आठ बजे से अपराह्न दो बजे तक अपना-अपना कार्य पूर्ण करें। ताकि समय पर रिपोर्टिंग इत्यादि करना संभव ह७ो। कोविड पॉजिटिव मरीजों के कांटेक्ट ट्रेसिंग वाले यानी रोगी के निकट संपर्क में रहने वाले लोगों के सैंपल जांच प्राथमिकता के साथ होगी। सर्वे में लगायी गईं आंगनबाड़ी और आशा कार्यकत्रियों की जांच भी कराएंगे।
श्री शर्मा ने कहा कि ‘अर्ली डिटेक्शन-अर्ली कैचिंग’ अवधारणा लेकर सभी टीम कार्य करेंगे। जिससे मरीजों की पहचान समय रहते कर ली जाय और उनका बेहतर इलाज हो सके। इस मौके पर लैब टेक्नीशियन ने शिकायत की कि कांटेक्ट ट्रेसिंग वाले व्यक्ति सैंपल देने में आनाकानी या टालमटोल करते हैं। इस पर जिलाधिकारी ने निर्देश दिया कि कांटेक्ट ट्रेसिंग में आये लोगों को हर हाल में सैंपल की जांच करानी होगी। ऐसा न करने पर दोषी व्यक्ति के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई होगी। बैठक में सीएमओ, एसडीएम राजातालाब, डिप्टी कलेक्टर माल, बीएसए, एडीआईओएस आदि भी थे।