ALL जनसंदेश एक्सक्लूसिव वाराणसी-चंदौली मीरजापुर-सोनभद्र-भदोही जौनपुर-गाजीपुर आजमगढ़-मऊ बलिया इलाहाबाद देश-विदेश करोना वायरस मनोरंजन/लाइफस्टाइल
इलेक्ट्रीशियन ने अमरूद के पेड़ से झूलकर की आत्महत्या, जमीन बिकने के बाद से ही था परेशान
June 25, 2020 • अनूप मिश्रा • इलाहाबाद



जनसंदेश न्यूज़
हनुमानगंज/प्रयागराज। सरायइनायत थाना क्षेत्र के भागीपुर गांव निवासी फूलचंद (40) पुत्र शंकर लाल का शव गुरुवार को सुबह घर के पीछे अमरुद के पेड़ से रस्सी के फंदे पर लटकता मिला। शव देख परिजनों में कोहराम मच गया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।
प्राप्त जानकारी के अनुसार प्रतिदिन की भांति फूलचंद्र अपने परिवार के साथ खा-पीकर कमरे में सोने चला गया। रात में जब हर कोई सोया हुआ था। इसी बीच ना जाने कब युवक ने घर के पीछे जाकर फांसी लगाकर जान दे दी। गुरूवार की सुबह जब उसका बेटा घर के पीछे गया तो उसने पिता को अमरूद के पेड़ पर रस्सी से लटकते देखा। यह देखते ह ीवह सन्न रह गया। इसकी सूचना पुलिस को दी गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पीएम के लिए भेजा। मृतक अपने तीन भाइयों में सबसे बड़ा था। और घर में ही इलेक्ट्रनिक की दूकान खोल रखी थी। जिससे परिवार का भरण-पोषण करता थौ परिजनों ने इसका कारण आर्थिक तंगी बताया। जानकारी के अनुसार काफी कर्ज में डूबा था। पिछले दिनों अपनी जमीन बेचकर कर्जदारों का कर्ज चुकता कर दिया था, तभी से तनाव में रहता था। पत्नी सावित्री का रो-रो कर बुरा हाल है।