ALL जनसंदेश एक्सक्लूसिव वाराणसी-चंदौली पूूर्वांचल इलाहाबाद लखनऊ कानपुर-गोरखपुर आगरा देश-विदेश सृजन मनोरंजन/लाइफस्टाइल
घर में घुसे चोरों ने नगदी सहित 10 लाख के आभूषणों पर किया हाथ साफ, डॉग स्क्वायड व फिंगर प्रिंट टीम जांच में जुटी
August 18, 2020 • महर्षि सेठ • इलाहाबाद



जनसंदेश न्यूज़
कबूलपूर/जौनपुर। जाफराबाद थाना क्षेत्र के खरचलपुर निवासी राजनाथ गिरी के घर मे सोमवार की रात चोरों ने छत पर चढ़ कर सीढ़ी के रास्ते घर के अंदर घुस कर दस लाख रुपए की कीमत के आभूषण सहित नगदी पर हाथ साफ कर दिया। रात में ही परिजनों को चोरी की जानकारी जैसे हुई। 112 नम्बर पर डायल कर सूचना दिया। सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने डॉग स्क्वायड व फिंगर प्रिंट विशेषज्ञों की मदद से जांच में जुट गये।
सुबह जाफराबाद पुलिस मामले की जानकारी लेने पहुंची तो परिजनों ने चोरी गई सामानों तथा नगदी गई सामानों की लिस्ट दिया। जिसके अनुसार घर में परिजनों 10 लाख के आभूषण व नगदी के चोरी का अनुमान लगाया। जिसमें लालबहादुर का 85000 रुपए नगद उसके साथ अटैची में रखे दो पायल, बहु पुनम के समान दो सोने के चौन, हार एक, मांग टीका एक, अंगूठी छह, नाथिया एक, झुमका तीन, करधनी एक, पैजनी दो, आयरन दो, 64000नगद, बिटिया माला देवी का आयरन, चैन दो, अंगूठी दो, पायल एक, शामिल है। परिवार के मुखिया राजनाथ गिरी ने पूरे सामान व नगदी का विवरण पुलिस को दिया।
दस लाख रुपए से अधिक के समान की चोरी देख जाफराबाद थानाध्यक्ष ने डॉग स्क्वायड, फिंगरप्रिंट के लोगों को बुलाया। उसके साथ सीओ सुशील सिंह भी घटना स्थल पर पहुँच गए। डॉग स्क्वायड घर में पहुंचने पर उसे चोरी के स्थान पर ट्रेनर ने जैसे डॉग स्क्वायड को छोड़ा तो वह घर में ही बिटिया माला गिरी के कमरे के पास ही बैठ गया। फ्रिंगर प्रिंट विशेषज्ञ ने बताया कि कही भी फिंगर का छाप दरवाजा, हैंडिल व अन्य जगहों पर नही मिला। 
इस संबंध में सीओ सुशील कुमार सिंह व जाफराबाद थानाध्यक्ष ने बताया कि प्रथम दृष्टया मामला संदिग्ध लग रहा है। चोरी में किसी के फिंगर के साथ कोई सबूत नही मौके पर मिला। डॉग स्क्वायड भी घर के भीतर ही रह गया। जबकि सीओ सुशील कुमार सिंह से इस संदर्भ में बात किया गया।तो उंन्होने भी मामला संदिग्ध बताया।