ALL जनसंदेश एक्सक्लूसिव वाराणसी-चंदौली पूूर्वांचल इलाहाबाद लखनऊ कानपुर-गोरखपुर आगरा देश-विदेश सृजन मनोरंजन/लाइफस्टाइल
गंगा में नदी में पिंडदान करने आये युवक की डूबने से मौत, बचाने के लिए लगाई गुहार पर हो चुकी थी देर
September 17, 2020 • गोपीनाथ मिश्रा • पूूर्वांचल



जनसंदेश न्यूज
सीखड़/मीरजापुर। चुनार घाट पर पिंडदान करने आये 45 वर्षीय युवक की डूबने से मौत हो गई। घटना के बाद मौके पर हड़कंप मच गया। 

जानकारी के अनुसार गुरुवार को अमावस्या पितृ विसर्जन के अवसर पर पितरों के पिंड दान करने आए 45 वर्षीय दिलीप शुक्ला पुत्र स्वर्गीय राम मनोहर शुक्ला निवासी तुलापुर, थाना कछवां ने गुरुवार को पिंडदान करने के पश्चात गंगा में स्नान करते समय गहरे पानी में चले जाने से डूबने लगा। डूबते वक्त बचाने के लिए आवाज लगाया, कोई समझ पाता कि तब तक वह गहरे पानी में समा गया। 

घाट पर पिंडदान करने आए मृतक के बड़े पिता के लड़के भाजपा नेता संतोष शुक्ला आदि लोगों ने बचाने के लिए दौड़े, तब तक दिलीप पानी  में समा गया। संतोष शुक्ला ने बताया कि 20 मिनट के अंदर ही हम लोगों ने ढूंढ़ कर दिलीप को पानी से बाहर निकाला, तब तक दिलीप का मौत हो चुका था। घटना की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने मृतक का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा। 

बता दें कि मृतक तीन भाई में सबसे बड़ा था। जिससे तीन लड़की व दो लड़का है। एक बड़ी लड़की की शादी कर चुका है, वह ड्राइवरी कर के अपने परिवार बाल बच्चे का का पालन पोषण करता था। दिलीप के मौत की खबर लगते ही परिजनों समेत क्षेत्र में कोहराम मच गया। वहीं पत्नी का रो-रो कर बुरा हाल है।