ALL जनसंदेश एक्सक्लूसिव वाराणसी-चंदौली पूूर्वांचल इलाहाबाद लखनऊ कानपुर-गोरखपुर आगरा देश-विदेश सृजन मनोरंजन/लाइफस्टाइल
गैस सिलेंडर में लगी आग, चपेट में आई विवाहिता की मौत, परिजनों ने हत्या का लगाया आरोप 
July 2, 2020 • अजय सिंह उर्फ राजू • इलाहाबाद



जनसंदेश न्यूज 
नन्दगंज/गाजीपुर। थाना क्षेत्र के सिहोरी गांव निवासी महिला की खाना बनाते समय गैस सिलेंडर रिसाव के चलते आग लगने से जलकर मौत हो गई। घर में लगी आग को ग्रामीणों ने पानी डालकर काफी प्रयास के बाद बुझा दिया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।
सिहोरी निवासी ललिता देवी 48 वर्ष पत्नी मुन्ना पासी गुरूवार की सुबह खाना बना रही थी। इस दौरान अचानक गैस सिलेंडर में रिसाव होने के चलते आग लग गया।  अभी वह कुछ समझ पाती कि आग की लपटों के चपेट में वह आ गई जिससे की मौके पर ही मौत हो गई। आग लगने से घर मे रखा फ्रिज, कपड़ा, बेड पर रखा गद्दा आदि जल गया हैं। घर से धुआं निकलते देख पड़ोसी तथा गांव के लोग मौके पर पहुँचकर देखा तो आग लगी थी। किसी तरह पड़ोसियो ने पानी डालकर आग को बुझाया। 
वहीं पति मुन्ना पासी नन्दगंज डीजल लेने गया था। पुत्र प्रद्युम्न पासी खेत मे धान की रोपाई हेतु पानी भर रहा था। मृतिका ललिता को दो पुत्र तथा एक पुत्री है। जिसमें एक पुत्री और एक पुत्र की शादी हो चुकी है। घर पर पति मुन्ना और छोटा पुत्र प्रद्युम्न ही रहता है। घटना की जानकारी मिलते ही पूरे परिवार में कोहराम मच गया। सूचना पर पहुंचे थानाध्यक्ष राकेश कुमार सिंह ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम को भेज दिया। 
इधर मृत्यु की सूचना पर मायके पक्ष के लोग भी मौके पर पहुंच गए। मृतिका ललिता के पिता जगदीश राम, निवासी कसेरा पोखरा, थाना कोतवाली जमानियां ने आरोप लगाया कि मेरी पुत्री ललिता को पति मुन्ना और पुत्र प्रद्युम्न अक्सर प्रताड़ित करते रहते थे। बुधवार की रात प्रदुम्न ने मेरी पुत्री ललिता को मारा पीटा था इसकी सूचना मेरी पुत्री ने दिया था। वृहस्पतिवार की सुबह पति और पुत्र दोनों ने मिलकर जलाकर मार डाला। इस सम्बंध में जगदीश ने तहरीर देने की बात कही। वही थानाध्यक्ष राकेश सिंह ने बताया की इस बाबत अभी मुझे कोई तहरीर नही मिली है।