ALL जनसंदेश एक्सक्लूसिव वाराणसी-चंदौली मीरजापुर-सोनभद्र-भदोही जौनपुर-गाजीपुर आजमगढ़-मऊ बलिया इलाहाबाद देश-विदेश करोना वायरस मनोरंजन/लाइफस्टाइल
गाजीपुर में लगातार दूसरी दिन बड़ी संख्या में मिले कोरोना संक्रमित, बिगड़े हालात से जिला प्रशासन हलकान 
June 17, 2020 • अजय सिंह उर्फ राजू • जौनपुर-गाजीपुर


कोरोना का प्रकोप कायम, जिले में 20 और निकले कोरोना पॉजीटिव

जिले में संक्रमितों की संख्या पहुंची 227, एक्टिव केस हुए 69 

संक्रमितों को एल-1 कोविड हास्पिटल मुहम्मदाबाद में कराया गया भर्ती

जनसंदेश न्यूज़
गाजीपुर। महानगरों से आए प्रवासियों के कारण जिले में कोरोना संक्रमितों की तादाद में लगातार इजाफा हो रहा है। बुधवार को जिले में कोरोना के 20 नए मामले मिले हैं। हालांकि अब तक 158 लोग स्वस्थ होकर घर जा चुके हैं। अब संक्रमितों की संख्या 227 तक पहुंच गया है। जिसमें 69 एक्टिव केस बचे हैं। संक्रमितों को एल-1 कोविड हास्पिटल मुहम्मदाबाद में भर्ती कराया गया है। साथ ही जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग सभी संक्रमित मरीजों की ट्रैवल हिस्ट्री खंगालने के साथ उनके संपर्क में आए लोगों को खोज निकालने में जुट गई है। 
इधर गाजीपुर में लगातार नए मरीजों के मिलने से जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग की चिंताएं बढ़ती जा रही है। संक्रमित मरीजों पर स्वास्थ्य विभाग नजर बनाए हुए है। स्वास्थ्य विभाग के कोरोना नोडल प्रभारी डॉ स्वतंत्र सिंह ने बताया कि बुधवार को जिले में 231 लोगों की जांच रिपोर्ट आई, जिसमें 20 कोरोना पॉजीटिव मिले हैं। जिसमें मुहम्मदाबाद में चार, देवकली में दो, कासिमाबाद में दो, जमानियां, रेवतीपुर, बाराचवर क्षेत्र में मिले। अधिकतर संक्रमित महानगरों से आए हुए हैं। अब तक 5898 से अधिक सैम्पलिंग की गई है। जिसमें 227 पाजिटिव पाए गए थे। जिसमें 158 स्वस्थ होकर घर चले गए। वर्तमान में 69 सक्रिय कोरोना संक्रमित मरीजों का इलाज चल रहा है। इसी के साथ जिले में कुल कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या अब बढ़कर अब 227 हो गई है।

बढ़ रही मरीजों की संख्या, उधर बाजार में भीड़ पर नहीं लग पा रही लगाम
गाजीपुर। जिस तरह से जिले में संक्रमित मरीजों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है, उसके चलते आम लोगों में दहशत है, किंतु इसके ठीक विपरीत व्यावसायिक प्रतिष्ठानों के खुलने के बाद जिस तरह से दुकानों में भीड़ देखने को मिल रही है। वह डरावनी है। वहीं काफी तादाद में हो रही शादी भी एक बड़ी परेशानी बन सकती है, क्योंकि वहां भी बड़ी संख्या में लोग शामिल हो रहे हैं। 
हालांकि जिला प्रशासन द्वारा अनुमति के बाद ही शादी किए जाने के निर्देश दिए गए थे। जितनी भी शादियां हो रही है उसमें अधिकतर प्रशासन की अनुमति के बगैर ही हो रही है। साथ ही विवाह समारोह में शामिल होने के लिए एक सीमित संख्या भी निर्धारित की गई है, लेकिन ठीक इसके उलट संक्रमण की परवाह किए बिना ही बड़ी संख्या में वहां लोग शामिल हो रहे हैं। ज्यादा संख्या में विवाह में शामिल होने तथा शारीरिक दूरी और मास्क का पालन नहीं कर कुछ विवाह समारोह में शासन के नियमों की अनदेखी की जा रही है। जिससे संक्रमण को बढ़ावा मिल सकता है।