ALL जनसंदेश एक्सक्लूसिव वाराणसी-चंदौली मीरजापुर-सोनभद्र-भदोही जौनपुर-गाजीपुर आजमगढ़-मऊ बलिया इलाहाबाद देश-विदेश करोना वायरस मनोरंजन/लाइफस्टाइल
गाजीपुर में आज मिले कोरोना के इतने नए पॉजीटिव मरीज, संख्या पहुंची 333
June 30, 2020 • अजय सिंह उर्फ राजू • जौनपुर-गाजीपुर


पिछले तीन पखवाड़े में अचानक बढ़ी कोरोना मरीजों की संख्या, मचा हड़कंप

जनसंदेश न्यूज़
गाजीपुर। जिले में कोरोना मरीजों की संख्या में लगातार वृद्धि हो रही है। मंगलवार को दो महिलाओं सहित पांच और कोरोना के मरीज मिले हैं। इस प्रकार कुल मरीजों की संख्या बढ़कर 333 हो गई है। इसमें तीन की मौत हो चुकी है। जबकि 292 स्वस्थ होकर अपने घर चले गए हैं। वर्तमान में एक्टिव मरीजों की संख्या 37 हो गई है। 
डिप्टी सीएमओ डॉ स्वतंत्र सिंह ने बताया कि मंगलवार को आई 135 की रिपोर्ट में पांच लोग कोरोना पाज़िटिव मिले। जो कासिमाबाद क्षेत्र के निवासी हैं। इसमें दो महिलाएं शामिल हैं। जिन्हें शम्मे गौसिया हास्पिटल सहेड़ी भेजा जा रहा है। इनका सैम्पलिंग 26 जून को हुआ था।वही 292 मरीज स्वस्थ होकर घर पहुंच गए हैं। अब तक 8450 से अधिक सैंम्पल जांच के लिए भेजे गए हैं। 
उधर ग्रामीण क्षेत्र में संक्रमित का आंकड़ा तेजी से बढ़ता जा रहा है। अलग-अलग गांवों में संक्रमित मिलने से प्रशासन की दिक्कतें बढ़ती जा रही है। पुलिस बल को प्रत्येक गांव में तैनात करना पड़ रहा है। इस कारण ग्रामीण क्षेत्र में पुलिस ने अपने पूरे संसाधन झोंकने शुरू कर दिए है। ताकि कोरोना के फैलाव को नियंत्रित किया जा सके। वहीं स्वास्थ्य विभाग संक्रमितों की कांटेक्ट व ट्रेवल हिस्ट्री के आधार पर सैंपल लेने की संख्या को बढ़ा कर संक्रमितों का पता लगाने में जुटा है। 
मालूम हो कि केंद्र व राज्य सरकारों द्वारा प्रवासियों को उनके घरों तक पहुंचाने के सिलसिला ट्रेनों व बसों से शुरू किया गया था। जिले में भी लाखों की संख्या में प्रवासी मजदूर अपने अपने घरों को लौटे थे। ऐसे में उनके स्वास्थ्य परीक्षण रिपोर्ट में कोरोना संक्रमण की पुष्टि होना शुरू हो गया था। शहर में कोरोना संक्रमण के खतरे को देखते हुए पुलिस प्रशासन व प्रशासनिक अधिकारी पूर्ण दृष्टि जमाए हुए है। कई स्थानों से जोखिम क्षेत्रों से हटाया गया है। ऐसे में लोगों की आवाजाही भी बढ़ी है। पुलिस और प्रशासन अब ग्रामीण क्षेत्रों में अपनी सेवाएं बढ़ाने में लगे है ताकि इसके बढ़ते संक्रमण को किसी प्रकार से रोका जा सके।