ALL जनसंदेश एक्सक्लूसिव वाराणसी-चंदौली मीरजापुर-सोनभद्र-भदोही जौनपुर-गाजीपुर आजमगढ़-मऊ बलिया इलाहाबाद देश-विदेश करोना वायरस मनोरंजन/लाइफस्टाइल
एक महानायक डॉ बी. आर. आम्बेडकर में न्याय के लिये भीमराव का संघर्ष 
July 29, 2020 • डा. दिलीप सिंह • मनोरंजन/लाइफस्टाइल



जनसंदेश न्यूज़
इंदौर। भीमराव के घर में घटनाओं के आश्चर्यजनक मोड़ लेने के साथ, परिवार को एक और बड़ी परेशानी का सामाना करना पड़ रहा है। लेकिन इस बार, वह भीमराव है, जो भास्कर की भाभी माधवी (कल्याणी सिंह) के लिये इंसाफ पाने के लिये खड़ा होने का फैसला करता है। 
रामजी से दहेज पाने के लालच में, शम्भू (भास्कर के पिता) अपने बेटे की शादी मंजुला से कराने का फैसला करते हैं, लेकिन माधवी की सलाह पर भास्कर शादी करने से इनकार कर देता है। लेकिन स्थितियां एक दुर्भाग्यपूर्ण मोड़ लेती हैं और इन सबके बीच माधवी को अपनी जान गंवानी पड़ती है। भास्कर को जल्द ही अपने माता-पिता की साजिश का पता चल जाता है और दूसरी ओर, भीमराव को लगता है कि कुछ तो गलत है और वह खुद हालात की छानबीन करने और माधवी को न्याय दिलाने का फैसला करता है। 
आगामी एपिसोड के बारे में बताते हुये आदित्य कोनर, जोकि भास्कर की भूमिका निभा रहे हैं, ने कहा, ‘भास्कर के फैसले को बदलने में माधवी एक प्रमुख भूमिका निभाती है और उसे मंजुला के नजरिये से चीजों को समझाने में मदद करती है। इस दौरान, भीमराव न्याय पाने के लिये संघर्ष करने का फैसला करता है। लेकिन यह देखना दिलचस्प होगा कि भीमराव का अगला कदम क्या होगा? क्या वह माधवी को न्याय दिलाने में सक्षम हो पायेगा? और जानने के लिये देखते रहिये, एक महानायक डॉ बी. आर. आम्बेडकर, रात 8.30 बजे, प्रत्येक सोमवार से शुक्रवार, सिर्फ एण्डटीवी पर!