ALL जनसंदेश एक्सक्लूसिव वाराणसी-चंदौली मीरजापुर-सोनभद्र-भदोही जौनपुर-गाजीपुर आजमगढ़-मऊ बलिया इलाहाबाद देश-विदेश करोना वायरस मनोरंजन/लाइफस्टाइल
देवरों ने भाभी को लाठियों से पीट-पीट कर उतारा मौत के घाट, भाई को किया अधमरा, कोहराम 
July 9, 2020 • फैयाज मंसूरी • इलाहाबाद


मऊआइमा के ग्राम रामनगर गंसियारी में जमीनी विवाद को लेकर हुई घटना

जनसंदेश न्यूज़
मऊआइमा/प्रयागराज। जमीनी विवाद को लेकर तीन सगे भाइयों के बीच बुधवार को देर रात में जमकर लाठियां चली। तथा देवरों ने अपनी सगी भाभी को इस कदर लाठियों से पीटा कि उस ने मौके पर ही दम तोड़ दी। जबकि बडे भाई को पीट-पीट कर बेहोश कर दिए। सूचना पर पहुंची पुलिस ने नाजुक हालत में मृतका के पति को एस आर एन में भर्ती कराया है और मृतका के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दी। मृतका के पुत्र ने अपने दो सगे चाचाओं के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज करा दिया है। पुलिस आरोपियों की तलाश  में जुट गई है। 
प्राप्त जानकारी के अनुसार मऊआइमा थाना क्षेत्र के ग्राम रामनगर गंसियारी निवासी स्वर्गीय शंकरलाल सरोज के तीन पुत्र हैं। सबसे बडा राजकुमार सरोज, उसके बाद वीरेन्द्र कुमार, सबसे छोटा अमित कुमार हैं। बताया जाता है कि बडे भाई राजकुमार से छोटे भाइयों के बीच पिता की जायदाद को लेकर प्रायः लड़ाई झगड़ा होता चला आ रहा है। बताया गया है कि पिछले साल तीनों भाइयों के बीच सम्पत्ति के बंटवारे को लेकर जमकर मारपीट हुई थी। पुलिस ने तीनों को शांति भंग में चालान कर दिया था। 
ग्रामीणों के अनुसार बुधवार को देर रात में बडे भाई राज कुमार और छोटे भाई वीरेन्द्र एंव अमित कुमार के बीच जमीन के बंटवारे को लेकर पहले कहासुनी हुई फिर दोंनों के बीच लाठियां चलने लगे। इसी बीच राजकुमार की पत्नी संगीता देवी 45 वर्ष आकर भिड गयी। बताया गया है कि संगीता देवी 45 वर्ष को उनके देवरों  ने लाठियों से इतना पीटा कि वह मौके पर ही दम तोड़ दी, जबकि मृतका के पति को मारपीट कर अधमरा कर दिए। और दोनों भाई भाग निकले। सूचना पर पहुंची मऊआइमा पुलिस ने मृतका संगीता देवी के शव का पंचनामा भरकर कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया तथा बेहोश पडे संगीता के पति को एसआरएन में भर्ती कराया गया है। मृतका संगीता के दो पुत्र हैं। सबसे बडे रामकिशुन 20 वर्ष तथा कन्हैयालाल 17 वर्ष हैं। मृतका के बडे पुत्र रामकिशुन ने अपने सगे चाचा वीरेन्द्र कुमार सरोज, अमित कुमार सरोज के खिलाफ धारा 302 एंव 308 के अन्तर्गत मुकदमा दर्ज करा दिया है। पुलिस आरोपियों की तलाश में निरंतर दबिश दे रही है। तथा आरोपियों के परिजनों को थाने में बैठा लिया गया है। समाचार लिखे जाने तक किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई थी। 
पूर्व में आरोपियों ने बडे भाई के खिलाफ दी थी तहरीर
ग्रामीणों के अनुसार अमित कुमार और वीरेन्द्र कुमार मऊआइमा थाने एवं रामफल इनारी पुलिस चौकी में बडे भाई राज कुमार के खिलाफ पिता की सम्पत्ति हड़प लेने की तहरीर देते रहे पांच दिन पूर्व में भी अमित ने बडे भाई के खिलाफ सम्पत्ति हड़प लेने की तहरीर दे चुका था। ग्रामीणों का आरोप है कि यदि पुलिस कार्यवाही कर देती तो आज उक्त घटना न घटित होती।