ALL जनसंदेश एक्सक्लूसिव वाराणसी-चंदौली पूूर्वांचल इलाहाबाद लखनऊ कानपुर-गोरखपुर आगरा देश-विदेश कोविड-19/देश-विदेश मनोरंजन/लाइफस्टाइल
देर शाम तक घर खाने नहीं पहुंचा युवक, दुकान बुलाने पहुंचा भाई अंदर का नजारा देख हुआ दंग
September 10, 2020 • आशीष निषाद • लखनऊ

दुकान के अंदर व्यापारी ने फांसी लगाकार दे दी जान, परिजनों में मचा कोहराम

जनसंदेश न्यूज़
अतरौलिया/आजमगढ़। थाना क्षेत्र के लोहरा गांव निवासी सूरज अग्रहरी पुत्र रामशरण अग्रहरी (26) ने बुधवार की देर शाम अपने दुकान में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। काफी देर तक जब युवक घर खाने नहीं पहुंचा तो परिजन दुकान पर गये, जहां दुकान के अंदर व्यापारी का शव फंदे से लटकता देख उनके पैरों तले जमीन ही खिसक गई। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

प्राप्त जानकारी के मुताबिक लोहरा गांव निवासी सूरज अग्रहरी की गांव में ही आवासी मकान था तथा लोहरा गांव के मेन रोड पर किराने की दुकान है। बुधवार की देर शाम जब सूरज अपने घर भोजन करने नहीं पहुंचा तो उसका भाई नीरज अग्रहरी उसे खाना खाने हेतु बुलाने दुकान पर गया। जहां दुकान का शटर गिरा हुआ था। कई बार बुलाने के बाद जब अंदर से कोई आवाज नहीं आई तो उसका भाई नीरज दुकान का शटर खोलकर अंदर घुस गया। 

जब वह दुकान की दूसरी मंजिल पर पहुंचा तो सूरज का पंखे के सहारे लटकता हुआ पाया। आनन-फानन में उसने इसकी सूचना पास पड़ोस के लोगों को देते हुए जिला संयुक्त चिकित्सालय लेकर पहुंचा। जहां डाक्टरों ने सूरज को मृत घोषित कर दिया। मृतक सूरज का अभी डेढ़ वर्ष पहले ही विवाह हुआ था। पत्नी वंदना का रो रो कर बुरा हाल है। सूचना मिलते ही पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम हेतु जिला अस्पताल भेज दिया।