ALL जनसंदेश एक्सक्लूसिव वाराणसी-चंदौली पूूर्वांचल इलाहाबाद लखनऊ कानपुर-गोरखपुर आगरा देश-विदेश सृजन मनोरंजन/लाइफस्टाइल
चंदौली में फर्जी पुलिस बनकर वसूली कर रहे इन चार युवकों को पुलिस ने किया गिरफ्तार, ट्रकों से......
August 21, 2020 • जावेद अंसारी • वाराणसी-चंदौली

गाजीपुर के चार युवक ट्रकों से करते थे अच्छी सूचना

जनसंदेश न्यूज़
चंदौली। लॉकडाउन में रोजगार छिन जाने के बाद घर चलाना मुश्किल हुआ तो चार बेरोजगार युवकों ने धन कमाने की नायाब तरकीब ढूंढ निकाली। उन्होंने पुलिसिया कार्य प्रणाली को करीब से देखा, परखा और जब इसकी सटीक जानकारी हुई तो वें खुद की पुलिस टीम बनाकर धनअर्जन में निकल गए। उन्होंने अवैध वसूली का काम अवैध तरीके से शुरू किया। गाजीपुर के रहने वाले इन चार लड़कों ने चंदौली जनपद में ट्रकों को टारगेट किया और अच्छी रकम वसूलने लगे। चारों युवक जो खुद को पुलिस बताकर वसूली करते हुए शुक्रवार धीना पुलिस के हत्थे चढ़ गए।

धीना पुलिस के मुताबिक युवक गंगाफल राय, शिवाकांत चतुर्वेदी, दीपक सिंह यादव व उपेंद्र सिंह यादव अगहर वीर बहुरिया नदी के पास ट्रकों से वसूली कर रहे थे, तभी मुखबिर की सटीक सूचना पर सभी को धर-दबोचा गया। पूछताछ में चारों ने खुद को गाजीपुर जनपद का निवासी बताया। युवकों ने बताया कि बेरोजगार हैं, जिससे घर चलाना मुश्किल हो गया था। ऐसे में हम सभी ने एकजुट होकर अपने खर्चे व घर चलाने के लिए फर्जी पुलिस बनकर ट्रक चालकों से वसूली की योजना बनाई और उसे अमल में लाया। इससे हम सभी को अच्छी आमदनी होने लगी।

इससे हम सभी इस काम में पूरी शिद्दत के साथ लग गए। यह जानकारी देते हुए एएसपी प्रेमचंद ने बताया कि फर्जी पुलिस द्वारा ट्रक चालकों से वसूली का मामला पुलिस के संज्ञान में आया तो इसकी जांच-पड़ताल शुरू की गयी। इसी बीच मुखबिर की सूचना पर सभी को पकड़ लिया गया, जिनके पास से 68190 रुपये नकदी, एक कार व बिना नंबर की बाइक बरामद हुई। बताया कि उक्त मामले में विभागीय लोगों के मिलीभगत की जांच कर रही है। इसकी पुष्टि होने पर संबंधित कर्मचारी के विरूद्ध कड़ी कार्यवाही की जाएगी।