ALL जनसंदेश एक्सक्लूसिव वाराणसी-चंदौली मीरजापुर-सोनभद्र-भदोही जौनपुर-गाजीपुर आजमगढ़-मऊ बलिया इलाहाबाद देश-विदेश करोना वायरस मनोरंजन/लाइफस्टाइल
चंदौली में फर्जी डीएल व आधार कार्ड बनाने वाले तीन जालसाज गिरफ्तार, फर्जी रसीदें बनाकर कराते थे सीमा पार
July 19, 2020 • जावेद अंसारी • वाराणसी-चंदौली



जनसंदेश न्यूज़
चंदौली। पुलिस ने जनपद में अवैध रूप से फर्जी डीएल, आधार कार्ड बनाने वाले गिरोह का भंडाफोड़ किया। रविवार को स्वाट टीम के साथ छापेमारी करते हुए पुलिस ने इस गिरोह के तीन सदस्यों को दबोच लिया। पुलिस ने उनके पास से भारी मात्रा में जरूरी कागजातों सहित मुहरें, लैपटाप, प्रिंटर आदि बरामद किया।
पुलिस लाइन सभागार में इसकी जानकारी देते हुए एसपी हेमंत कुटियाल ने बताया कि पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली कि बरठी-कमरौर गांव में जालसाजों का गिरोह सक्रिय है। प्राप्त सूचना पर त्वरित कार्रवाई करते हुए सैयदराजा एसओ लक्ष्मण पर्वत व स्वाट टीम प्रभारी अभय सिंह ने मौके पर पहुंचे। जहां गांव के ही तीन युवक रितेश कुमार, वाजित अली और सोनू कुमार फर्जी कागजात बनाते मिले। 
पुसिल ने मौके से तलाशी ली तो अधिकारियों के 105 मुहरें, चार फर्जी ड्राइविंग लाइसेंस, दो आधार कार्ड, दो लैपटाप, दो प्रिंटर, एक की बोर्ड, 1210 रुपये नकद, बिहार सरकार के 100 स्टीकर, सादा डीएल कार्ड, राजस्थान सरकार की परिवहन विभाग की 30 पर्चियां, झारखंड के 10 टैक्स टोकन, कर्नाटक की चेक रसीद सहित अन्य महत्वपूर्ण चीजें बरामद की। 
एसपी ने बताया कि जालसाज सीमा पर सक्रिय थे। वाहन चालकों से पैसे लेकर फर्जी डीएल व रसीदें बनाते थे। इसके जरिए वाहनों को सीमा पार कराने का सिलसिला काफी दिनों से चल रहा था। इसके बदले चालकों से मोटी रकम वसूलते थे। 
आपको बता दें कि यूपी-बिहार सीमा पर स्थित जिले में जालसाजों का पूरा रैकेट सक्रिय है। गत वर्ष भी पुलिस ने छापेमारी कर गिरोह का भंडाफोड़ किया था। नौबतपुर, पड़ाव व सकलडीहा बाजार से जालसाजों को गिरफ्तार किया गया था। उनके पास से परिवहन विभाग के फर्जी कागजात बरामद किए गए थे।