ALL जनसंदेश एक्सक्लूसिव वाराणसी-चंदौली पूूर्वांचल इलाहाबाद लखनऊ कानपुर-गोरखपुर आगरा देश-विदेश कोविड-19/देश-विदेश मनोरंजन/लाइफस्टाइल
बिरनो की बीडीओ बनी डिप्टी कलेक्टर, माता-पिता को दिया सफलता का श्रेय
September 13, 2020 • अजय सिंह उर्फ राजू • इलाहाबाद



जनसंदेश न्यूज़
बिरनो/गाजीपुर। बड़े बुजुर्गों ने कहा है कि किसी भी कार्य को मेहनत और लगन के साथ किया जाय तो एक दिन अवश्य सफलता मिलेगी। पूरी तन्मयता और समर्पण से कितने भी बड़े लक्ष्य को हासिल करना नामुमकिन नहीं होता। इस बात को बिरनो खण्ड विकास अधिकारी प्रीति तिवारी ने साबित कर दिखाया है। 

प्रीति  2018 बैच के पीसीएस परीक्षा में 27वां रैंक पाकर डिप्टी कलेक्टर जैसा पद हासिल कर लिया है। लखनऊ की रहने वाली प्रीति तिवारी की पढ़ाई बचपन से ही शहर में हुई है। इनकी शिक्षा हाईस्कूल इंटर तथा आई.टी. लखनऊ से हुई है। दरअसल, प्रीति 2017 बैच पीसीएस परीक्षा पास करने के बाद गाजीपुर के बिरनो ब्लॉक में खंड विकास अधिकारी के पद पर कार्यरत थी। 

पिता शिवकुमार तिवारी ऑटो पार्ट्स की दुकान चलाते है। माता सरिता तिवारी एक गृहिणी है। छोटी बहन डॉ. प्रिया तिवारी एक डॉक्टर हैं। प्रीति तिवारी ने जनसंदेश टाइम्स से बताया कि इस सफलता का श्रेय माता पिता को है। जिन्होंने बचपन से ही सभी भाई और बहनों को बड़ी लगन और मेहनत से पढ़ाने का काम किया।  तथा हम सभी लोग ईमानदारी और मेहनत से पढ़ाई कर इस मुकाम को पाने का काम किया।