ALL जनसंदेश एक्सक्लूसिव वाराणसी-चंदौली पूूर्वांचल इलाहाबाद लखनऊ कानपुर-गोरखपुर आगरा देश-विदेश सृजन मनोरंजन/लाइफस्टाइल
बिहार नानी के घर गई किशोरी को अगवा कर दुराचार, बनाया वीडियो, वायरल करने की धमकी, चार के खिलाफ रपट दर्ज
August 9, 2020 • रवि प्रकाश सिंह • वाराणसी-चंदौली

कहा मुंह खोला तो कर देंगे वीडियो वायरल

रवि प्रकाश सिंह

वाराणसी। बिहार अपने नानी के घर गई किशोरी को असलहे के दम पर अगवा कर जबरन उसे असवारी गांव राजातालाब लेकर आये और उसके साथ दुराचार किया। इस मामले में लालपुर पांडेयपुर थाना पुलिस ने चार लोगों के खिलाफ संगीन धाराओं में मुकदमा दर्ज किया। जो तीन नामजद  है उसमें  जमाल, गोलू और मदीज हाशमी है वहीं एक अज्ञात है।

लालपुर-पांडेयपुर थाना अंतर्गत इरशाद की नाबालिक बेटी अपने नानी के घर 18 जून से भभुआ बिहार में रह रही थी। पांच अगस्त को 4.30 बजे बच्ची के मामी का फोन इरशाद को आता है। बताया गया कि बच्ची दोपहर से घर पे नहीं है क्या आप के यहां तो नहीं पहुंची हैं। इसके बाद किशोरी की खोजबीन शुरु हुई। इस बीच अगले दिन इरशाद के रिश्तेदार मजीद हाशमी का फोन आता है। धमकी भरे अंदाज में मजीद कहता है कि तेरी बेटी मेरे पास है। उसकी शादी मेरे बेटे से करा दे नहीं तो अंजाम भयावक होगा। इतना कहकर उसने फोन कट कर देता है।

इरशाद की माने तो छह अगस्त को रात नौ बजे उनकी बेटी को अगवा करने वाले  घर पर छोड़ चले गए। बेटी घर पहुंची और जब पूरी बात बताई। इरशाद के नीचे से  जमीन खिसक गई। किशोरी ने जो  बयां किया वह मानवता को शर्मसार करने वाला था। उसने बताया कि चार लोगों ने उसके साथ दुराचार किया। दुराचार के वीडियो बनाये और वायरल करने की धमकी दी। किशोरी ने पिता को बताया कि दो को वह पहचान रही थी जिसमें जमाल और गोलू है। वहीं अन्य दो को बताने में असमर्थ रही। इरशाद का आरोप है कि सात अगस्त को आरोपी उनके घर धमके और धमकी दी कि अगर पुलिस में मामले को लेकर गए तो वीडियो वायरल कर दिया जायेगा।