ALL जनसंदेश एक्सक्लूसिव वाराणसी-चंदौली पूूर्वांचल इलाहाबाद लखनऊ कानपुर-गोरखपुर आगरा देश-विदेश सृजन मनोरंजन/लाइफस्टाइल
भुपौली लिफ्ट कैनाल से निकली मुख्य नहर का तटबंध टूटा, दर्जनों एकड़ रोपी गई फसल जलमग्न, पहुंचे पूर्व विधायक 
July 11, 2020 • आरिफ हाशमी • वाराणसी-चंदौली


रैथा मांगलपुर नहर के समीप टूटे तटबंध को बांधते किसान

जनसंदेश न्यूज़
कमालपुर/चंदौली। क्षेत्र के रैथा-मांगलपुर के समीप भुपौली पम्प कैनाल से निकली नहर का तटबंध पानी के दबाव को झेल नहीं पाया और टूट गया। इससे किसानों के दर्जनों एकड़ धान की रोपाई की गई फसल जलमग्न हो गया। किसानों ने काफी प्रयास कर तटबंध को बांधने का काम किया। बावजूद पानी के तेज बहाव से किसानों को सफलता नहीं मिल पाया। जानकारी होते ही पूर्व विधायक मनोज सिंह डब्लू मौके पर पहुंचे और किसानों की समस्या से अवगत हुए। आरोप लगाया कि भाजपा सरकार व उसके जनप्रतिनिधि सिंचाई संसाधनों की मरम्मत व रखरखाव तक नहीं कर पा रहे हैं। 
विदित हो कि तत्कालीन सपा सरकार में पूर्व सैयदराजा विधायक मनोज सिंह डब्लू ने किसानों के सिंचाई की समस्या से निजात दिलाने के लिए अथक प्रयास से भूपौली पम्प कैनाल पर उच्च क्षमता वृद्वि कराया। उक्त पक्का पम्प कैनाल का निर्माण 2013 में 110 करोड़ रुपये से कराया गया था, ताकि किसानों के खेतों को टेल तक पानी मुहैया हो सके। इन दिनों भुपौली पम्प कैनाल से निकली नहरों का तटबंध काफी जर्जर हो गया है।
शनिवार को रैथा मांगलपुर नहर के समीप तटबंध टूट गया, जिससे किसानों के कई एकड़ धान की रोपाई की गई फसल डूब गई। इसकी जानकारी होते ही किसान सिवान की ओर दौड़ पड़े और क्षतिग्रस्त तटबंध की मरम्मत का प्रयास किया, लेकिन तेज बहाव के कारण किसानों का प्रयास मुकम्मल नहीं हो सका। 
किसानों का आरोप था कि शिकायत के बावजूद सिंचाई विभाग व जिला प्रशासन नहरों के तटबंध की मरम्मत नहीं कर पाया, जिसका खामियाजा आज किसानों को भुगतना पड़ रहा है। सपा सरकार आने पर भुपौली पम्प कैनाल से जुड़ी समस्त नहरों को टेल से हेड तक पक्कीकरण कराया जाएगा। इस मौके पर जयनाथ यादव, पेबारू राम, सुबास यादव,गुड्डू सिंह, रामदुलार यादव एडवोकेट, प्रवीण राय, जयप्रकाश यपाध्यय आदि रहे।

...क्या कहते है अधिकारी 
कमालपुर। जेई मुकेश कुमार ने कहा पम्प कैनाल कल ही बंद कर दिया गया था टेल का रोस्टर 10 तारीख तक ही था इस लिए कल सुबह ही आवाजापुर के नीचे का रोस्टर समाप्त होगया था नहर में किसानों द्वारा पानी उतारा जा रहा और बरसात का पानी जिससे नहर ओवर फ्लो हुई है। मौके पर बेलदार मजदूरो को लेकर बाधने गए है।