ALL जनसंदेश एक्सक्लूसिव वाराणसी-चंदौली पूूर्वांचल इलाहाबाद लखनऊ कानपुर-गोरखपुर आगरा देश-विदेश सृजन मनोरंजन/लाइफस्टाइल
बसपा विधायक उमाशंकर सिंह ने कोरोना से जंग हारने वाले इंस्पेक्टर के पैतृक घर पहुंचकर की आर्थिक मदद
August 30, 2020 • जनसंदेश न्यूज • वाराणसी-चंदौली


जनसंदेश न्यूज़
चंदौली। विधायक उमा शंकर सिंह ने कोरोना से जंग हारने वाले इंस्पेक्टर अजय सिंह के निधन के बाद उनके पैतृक गांव कि चनहटा (खुरहुजा) जिला चंदौली स्थित घर जाकर उनके परिवार से मिले एवं उनके पिताजी के सामने इंस्पेक्टर अजय सिंह के बड़े बेटे सूर्य प्रताप सिंह (14 साल) को दो लाख रूपए की आर्थिक मदद की है। विधायक ने उनके परिवार को ये भी भरोसा दिलाया कि बच्चों की पढ़ाई लिखाई में कोई कमी महसूस नही होने दिया जाएगा।

आपको बता दें कि उमाशंकर बलिया की रसड़ा विधान सभा सीट से बसपा विधायक हैं। यह वहीं अजय सिंह हैं, जिनके निधन के बाद जब उनका बैंक खाता देखा गया तो मात्र 900 रूपए ही निकले और पता चला कि पीएफ खाते से भी लोन ले रखे हैं। अजय सिंह एसओजी, एसटीएफ व इलाहाबाद में तैनात रहे। कोरोना के समय अजय सिंह प्रतापगढ़ में तैनात थे। उमा शंकर सिंह ने शनिवार को उनके पैतृक गांव चंदौली में जाकर अजय सिंह के परिवार को दो लाख रूपए की आर्थिक मदद की है।

यह भी बता दें कि इससे पहले भी विधायक उमा शंकर सिंह ने पत्रकार रतन सिंह, जिनकी कुछ दिन पहले गोली मार कर हत्या कर दी गई थी के घर पहुंच कर दो लाख रूपए की आर्थिक मदद की थी।