ALL जनसंदेश एक्सक्लूसिव वाराणसी-चंदौली पूूर्वांचल इलाहाबाद लखनऊ कानपुर-गोरखपुर आगरा देश-विदेश सृजन मनोरंजन/लाइफस्टाइल
बनारस में पलटी पान लदी पिकअप, लखनऊ के तीन व्यापारियों की दर्दनाक मौत
June 26, 2020 • मो. इरफान हाशमी • वाराणसी-चंदौली

हरहुआ बाजार ओवरब्रिज पर घटी घटना, घंटों रहा जाम

बाराबंकी से वाराणसी आ रहे थे कारोबारी, छह घायल

राहगीरों ने घायलों को निजी अस्पताल में कराया भर्ती

जनसंदेश न्यूज़
हरहुआ। बड़ागांव थाना क्षेत्र के वाराणसी-लखनऊ राष्ट्रीय राजमार्ग (एनएच-31) पर हरहुआ बाजार स्थित बने ओवरब्रिज पर शुक्रवार की सुबह करीब पांच बजे बड़ा हादसा हो गया। पान लदी पिकअप अनियंत्रित होकर पलटने से तीन लोगों की मौत हो गई और छह लोग घायल हो गए। मरने वालों में तीनों लोग लखनऊ के पान कारोबारी थे। पुलिस ने घायलों को निजी अस्पताल में भर्ती कराया है। 
बाराबंकी से पान खरीदने के बाद व्यापारी समेत कई लोग पिकअप से वाराणसी आ रहे थे। शहर में प्रवेश करने से ठीक पहले हरहुआ फ्लाईओवर पर शुक्रवार की सुबह पिकअप अनियंत्रित होकर अचानक पलट गई। इस दुर्घटना में पिकअप के ऊपर बैठे पान व्यापारी गोसाईगंज-लखनऊ निवासी नान्हूं (22), सत्यनाथ (33) और रोशन लाल (45) की दुर्घटना स्थल पर ही मौत हो गई। जबकि गोसाईगंज-लखनऊ निवासी रंजीत, अरविंद, राजेंद्र और लोनी कटरा-बाराबंकी निवासी सीताराम, उमाशंकर, चालक रिंकू को मामूली चोटें आई हैं। घटना के बाद चालक फरार हो गया। जबकि हाईवे से गुजर रहे लोगों ने पुलिस को घटना की सूचना देने के साथ ही सभी घायलों को तत्काल हरहुआ स्थित निजी चिकित्सालय पहुंचाया, जहां चिकित्सकों ने तीन लोगों को मृत घोषित कर दिया। जबकि पांच घायलों को भर्ती कर लिया गया, जहां उनका इलाज चल रहा हैै। पुलिस ने तीनों शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम को भेज दिया और उनके परिजनों को सूचित कर दिया। 

ओवरब्रिज के मध्य में हुई घटना
हरहुआ, काजीसराय से वाजिदपुर गांव तक करीब 3.30 किलोमीटर लंबे बने ओवरब्रिज के मध्य में यह दुर्घटना हुई। जिसके चलते समय से कोई भी मदद के लिए नहीं पहुंच पाया। मालूम हो कि इतने लंबे-चौड़े ओवरब्रिज पर बीच में कहीं से चढ़ने या उतरने का कोई रास्ता नहीं है। घटनास्थल पर ओवरब्रिज के ठीक नीचे हरहुआ पुलिस चौकी व प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र स्थापित है। दुर्घटना होने के बाद पुलिसकर्मियों और आसपास के लोगों को बचाव के लिए तीन किलोमीटर से अधिक दूरी तय करनी पड़ी। अगर ओवरब्रिज के बीच से कोई चढ़ने-उतरने का रास्ता होता तो घायलों को तत्काल मदद मिल जाता और शायद मृतकों की संख्या कम होती है।

बरसात के चलते रबड़िंग पर हो गयी थी फिसलन
जिस समय यह दुर्घटना हुई, उसी समय हल्की बरसात हो रही थी। बरसात के चलते ओवरब्रिज पर किए गए रबड़िंग रोड पर फिसलन हो गई थी। प्रत्यक्षदर्शियों की माने तो चालक के ब्रेक लगाने के बाद पिकअप अनियंत्रित हो गई। चालक जब तक कुछ समझ पाता, तब तक पिकअप डिवाइडर में टकराते हुए पलट गई। पिकअप के ऊपर बैठे छह व्यापारियों में तीन की घटनास्थल पर ही मौत हो गई।

बीच रोड पलटी पिकअप, घंटों जाम रहा ओवरब्रिज
वाराणसी-लखनऊ राष्ट्रीय राजमार्ग पर बने ओवरब्रिज के बीच रोड पर पिकअप पलटने से ओवरब्रिज के ऊपर घंटों जाम की स्थिति बनी रही। बड़ागांव पुलिस पहुंची ो पिकअप को बीच रास्ते से हटाने की कोशिश करने लगे। तभी जाम में फंसे अन्य गाड़ियों के चालक भी मदद में जुट गए। सभी की मदद से पिकअप को धकेल करके डिवाइडर के साइड करके रोड को आने-जाने के लिए चालू किया जा सका।

कैसे पलटी पिकअप, कुछ समझ में नहीं आया
पिकअप के केबिन में चालक के साथ बैठे दो व्यापारियों ने बताया कि हम सभी लोग आराम से वाहन में बैठे थे। गाड़ी की रफ्तार भी तेज नहीं थी। हल्की-हल्की बारिश हो रही थी। हम सभी लोग बात भी कर रहे थे कि अचानक से तेज झटका लगा और कैसे पिकअप पलट गई, यह कुछ समझ में नहीं आया। कहीं चालक को नींद तो नहीं आ गयी थी, यह पूछे जाने पर उन लोगों ने कहा कि ऐसी कोई भी बात नहीं थी।