ALL जनसंदेश एक्सक्लूसिव वाराणसी-चंदौली पूूर्वांचल इलाहाबाद लखनऊ कानपुर-गोरखपुर आगरा देश-विदेश कोविड-19/देश-विदेश मनोरंजन/लाइफस्टाइल
बनारस में मां को मारकर घर में ही दफनाया, पड़ोसियों को हुआ शक तो सनसनीखेज खुलासा
July 6, 2020 • जनसंदेश न्यूज • वाराणसी-चंदौली

हत्यारोपी का सौतेली मां के साथ चल रहा था सम्पत्ति विवाद

जनसंदेश न्यूज़
वाराणसी। शहर में रविवार की देर शाम एक सनसनीखेज घटना का खुलासा हुआ। जहां एक बेटे ने अपनी सौतेली मां की हत्या कर उसे घर के अंदर ही दफना दिया। बदबू आने पर वह उस स्थान को पक्का कर रहा था। इसी बी शक के आधार पर पड़ोसियों ने महिला के मायके फोन किया। जिसके बाद हत्याकांड का खुलासा हुआ। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को गढ्ढे के अंदर से बरामद किया और आरोपी को गिरफ्तार किया। हत्या कारण सम्पत्ति विवाद बताया जा रहा है। 
भेलूपुर थाना क्षेत्र के देव पोखरी बड़ी पटिया बजरडीहा निवासी अली हुसैन ने तीन शादियां की थी। चार माह पूर्व अली हुसैन की बीमारी के कारण मौत हो गई। अली हुसैन के पहली पत्नी सितारा की मृत्यु 2003 में हुई थी। पति अली हुसैन ने सितारा के नाम से बड़ी पटिया देवपोखरी में एक मकान सन् 2000 में खरीदा था। सितारा की मृत्यु के पश्चात् अली हुसैन ने शहनाज के शादी की, जिससे उसका तलाक हो गया। 


उसकी पहली पत्नी के दो बेटे नसीम और अल्ताफ उर्फ सोनू थे। वहीं दूसरी पत्नी से उसका एक बेटा सलमान था। दूसरी पत्नी से तलाक के बाद अली ने तीसरी शादी परबीन उर्फ गुड़िया से की थी। जिससे उसे माजिद (10) और रूखसार (8) दो बेटे थे। अली हुसैन का छोटा बेटा हत्यारोपी अल्ताफ अपनी पत्नी रूखसाना व बेटे सहित सौतेली मां और उनके बेटे के साथ बड़ी पटिया के मकान में ही रहता था। 
एक हफ्ते पहले ही अल्ताफ ने पत्नी रूखसाना को मायके भेज दिया। जिसके बाद उसने अपनी सौतेली मां को मारकर घर के अंदर ही दफना दिया। मृतका की भाभी ने बताया कि एक हफ्ते पूर्व फोन करने पर हत्यारोपी अल्ताफ ने परबीन के गायब होने की बात कही। रविवार को मोहल्ले वालों ने फोन कर इसकी सूचना परबीन के बड़े भाई को दी। जिसके बाद पुलिस को सूचित करते हुए मौके पर पहुंच कर अल्ताफ को पकड़ लिया। सख्ती से पूछताछ के बाद युवक ने जुर्म स्वीकार कर लिया। पुलिस घर के अंदर से लाश को खोदवा कर निकाला।