ALL जनसंदेश एक्सक्लूसिव वाराणसी-चंदौली पूूर्वांचल इलाहाबाद लखनऊ कानपुर-गोरखपुर आगरा देश-विदेश सृजन मनोरंजन/लाइफस्टाइल
बनारस में चालक को बेहोश कर 20 लाख के गोल्डी मसाले लदा ट्रक लेकर बदमाश फरार, 24 घंटे के भीतर यहां से धराया
September 14, 2020 • अनीस अख्तर • पूूर्वांचल



जनसन्देश न्यूज
गोपीगंज/भदोही। कानपुर से मशाला लोड कर निकले ट्रक चालक को बेहोश कर ट्रक को खाली कर दिया गया। लूटेरों के चंगुल से किसी तरह छूटकर ट्रक चालक ने औराई पुलिस को सूचना दी। सूचना मिलते ही औराई क्षेत्राधिकारी लेखराज सिंह ने सक्रियता दिखाते हुए 24 घंटे के अंदर लुटे गए गोल्डी मसाले को बरामद करने में बड़ी कामयाबी हासिल की।

प्राप्त जानकारी के मुताबिक 12 सितंबर को सुबह लगभग 7.30 बजे गाड़ी नम्बर यूपी 78 बीएन 2336 चालक शेर अली निवासी रूरा कानपुर ने 1400 पेटी गोल्डी मसाले ट्रक पर लोड कर कानपुर से वाराणसी के लिए चला। 12 सितंबर को ही शाम को 7.00 बजे बनारस से पहले मोहनसराय रुक गया। नो एंट्री होने की वजह से रात 11.00 बजे शेर अली निकला। रविवार होने की वजह से बनारस फैक्ट्री में माल खाली नहीं हो पाया। चालक ट्रक सहित वहीं पर रुक गया।

जहां एक अनजान व्यक्ति आया और अपनी बातों से उलझाकर भोजन बनाने के लिए तैयार कर लिया। भोजन करने के बाद चालक सो गया। जब उसकी आंख खुली तो देखा कि उसके हाथ पैर रस्सियों से बंधे थे। किसी तरह शेर अली अपने हाथ पैर खोला और गाड़ी से कूद गया। शाम लगभग पांच बजे औराई थाने में पहुंचकर रिपोर्ट दर्ज कराई। ड्राइवर ने बताया कि मेरी गाड़ी में जीपीआरएस लगा हुआ है और इस समय महाराजगंज में खड़ी है। 

क्षेत्राधिकारी औराई ने मामले को गंभीरता से लेते छानबीन में जुट गए। महराजगंज पहुंचने पर गाड़ी वहीं खड़ी मिली। गाड़ी की जीपीआरएस से लोकेशन देखने के बाद पता चला कि गोपीगंज में 4 घंटे गाड़ी खड़ी थी। लोकेशन के आधार पर स्टेशन रोड गोपीगंज के गोदामों की जांच पड़ताल करनी शुरू की तो सलाहुद्दीन पुत्र महलु पड़ाव स्टेशन रोड गोपीगंज जो किराना व्यापारी है। उसके घर से लूट के माल गोल्डी मसाले की बरामदगी की गई। बिल के आधार पर पेटी के नंबर को मिलान किया गया तो वही नंबर के माल मिले। जिसकी कीमत लगभग बीस लाख रुपये बताई जाती है। 

क्षेत्राधिकारी लेखराज सिंह ने बताया कि बरामदगी में औराई थाना प्रभारी रामजी यादव, सब इंस्पेक्टर कृष्ण मोहन सिंह, थाना प्रभारी कृष्णा नन्द राय गोपीगंज, चौकी प्रभारी दयाशंकर ओझा सहित काफी संख्या में पुलिस बल मौजूद रहे। माल किसने बेचा था इसकी पूछताछ की जा रही है।