ALL जनसंदेश एक्सक्लूसिव वाराणसी-चंदौली मीरजापुर-सोनभद्र-भदोही जौनपुर-गाजीपुर आजमगढ़-मऊ बलिया इलाहाबाद देश-विदेश करोना वायरस मनोरंजन/लाइफस्टाइल
बनारस के छावनी इलाके में बंगला नंबर 51! अवैध कारोबार का ऐसा अड्डा जिसकी पुलिस को भी नहीं थी भनक
June 29, 2020 • रवि प्रकाश सिंह  • वाराणसी-चंदौली

सलीम ने प्रतिबंधित मछली के अवैध कारोबार के लिए लीज पर लिया था बंगला नंबर 51

खोदवाया था तालाब, पालता था प्रतिबंधित मछली

मछली व्यवसाइयों से लेता था कमीशन, इनकार पर देता था जान से मारने की धमकी 

रवि प्रकाश सिंह 
वाराणसी। सलीम इस धंधे में दो दशक से ज्यादा के समय से सक्रिय था। प्रतिबंधित मछली की कालाबाजारी, तस्करी और अन्य कारनामों के संचालन के लिए लिए इसने बकायदा छावनी इलाके में बंगला नंबर 51 को लीज पर ले रखा था। इसमें एक तालाब बनावाया था। इसी तालाब में प्रतिबंधित मछलियों की खेप तैयार करता था और बड़े पैमाने पर वाराणसी और इसके आसपास के जिलों में भेजता था। लेकिन ताज्जुब की बात यह है कि पुलिस और संबंधित प्रशासन को इसकी भनक नहीं लग सकी। जाहिर है, इन्हीं ‘तथाकथित’ लापरवाहियों से ऐसे कारोबार परवान चढ़ते हैं।
पुलिस की मानें तो मछली मंडियों में प्रति किलो पर उसकी उगाही होती थी। अगर कोई व्यापारी विरोध करता तो उसे जान से मारने की धमकी देता था। धंधा संचालन के लिए मुख्तार अंसारी का नाम भुनाने और धौंस दिखाने की भी इसके खिलाफ शिकायत पुलिस महकमे को मिली थी। कैंट थाने में इसके खिलाफ 307 का मुकदमा दर्ज है वहीं वर्ष 2012 में चुनाव अचार संहिता के उल्लंघन में भी इसपर मुकदमा दर्ज है। पुलिस की मानें तो यह साल 2012 में कौमी एकता दल के बैनर तले विधान सभा का चुनाव भी लड़ चुका है। तीनों के खिलाफ धारा 269, 270, 386, 506 समेत अन्य धाराओं में रपट दर्ज कर जेल भेज दिया गया।