ALL जनसंदेश एक्सक्लूसिव वाराणसी-चंदौली पूूर्वांचल इलाहाबाद लखनऊ कानपुर-गोरखपुर आगरा देश-विदेश कोविड-19/देश-विदेश मनोरंजन/लाइफस्टाइल
बढ़ती बेरोजगारी व निजीकरण को लेकर डीएम कार्यालय पहुंचे सपा कार्यकर्ता, जमकर की नारेबाजी, पुलिस ने रोका
September 15, 2020 • सत्येन्द्र सिंह • कानपुर-गोरखपुर



जनसंदेश न्यूज़
बिजनौर। देश में बढ़ रहे बेरोजगारी और अन्य मुद्दों को लेकर समाजवादी पार्टी के युवा कार्यकर्ताओं ने जिला कार्यालय पहुंचकर विरोध प्रदर्शन किया। सपा कार्यर्ताओं ने निजी करण व अन्य मुद्दों को लेकर जमकर धरना प्रदर्शन करते हुए नारेबाजी की। प्रदर्शन के दौरान जिला कलेक्ट्रेट ऑफिस में प्रशासनिक अधिकारियों की मौजूदगी में पुलिसकर्मियों ने समाजवादी पार्टी के युवा कार्यकर्ताओं को गेट पर ही रोक दिया। समाजवादी पार्टी के युवा कार्यकर्ताओं ने कानून व्यवस्था का पालन करते हुए राष्ट्रपति के नाम संबोधित ज्ञापन उप जिलाअधिकारी को सौंपा। 

देश मे लगातार बढ़ रही बेरोजगारी व प्रदेश सरकार द्वारा लिए गए फैसलों को लेकर समाजवादी पार्टी के युवा कार्यकर्ताओं ने जिला पार्टी कार्यालय पहुंचकर प्रदर्शन करते हुए बिजनौर कलेक्ट्रेट ऑफिस पहुंचे। प्रदर्शन कर रहे समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं को जिला प्रशासन के अधिकारियों ने पुलिस की मौजूदगी में जिला कलेक्ट्रेट के गेट पर ही रोक दिया। 

प्रदर्शन को लेकर युवा कार्यकर्ता का कहना है कि प्रदेश सरकार में लगातार जहां बेरोजगारी बढ़ रही है। वही दूसरी तरफ सभी सरकारी सेक्टरों को प्राइवेट करने के लिए सरकार द्वारा लिए गए फैसलों का हम विरोध करते हैं। सरकार के इस फैसले से जहां लगातार प्रदेश में बेरोजगारों की संख्या बढ़ती जा रही है। वहीं निजीकरण हो जाने के कारण लोगों की नौकरी जाने का खतरा है। निजी करण से सरकारी नौकरी करने वाले लोगों को आने वाले समय में नौकरी से निकाला भी जा रहा है।

समाजवादी पार्टी के सभी कार्यकर्ता निजी करण और बेरोजगारी के मुद्दे को लेकर एक ज्ञापन बिजनौर उप जिलाधिकारी को सौंपा। उनका कहना है कि अगर सरकार द्वारा अपने फैसलों को वापस नहीं लिया गया तो आने वाले समय में समाजवादी पार्टी के युवा कार्यकर्ता सड़क पर उतरकर प्रदर्शन करने को मजबूर हो जाएंगे।