ALL जनसंदेश एक्सक्लूसिव वाराणसी-चंदौली पूूर्वांचल इलाहाबाद लखनऊ कानपुर-गोरखपुर आगरा देश-विदेश सृजन मनोरंजन/लाइफस्टाइल
बाढ़ की संभावनाओं को देखते हुए एनडीआरएफ ने राहत बचाव हेतु पीएसी कर्मियों को किया प्रशिक्षित
June 24, 2020 • जनसंदेश न्यूज • वाराणसी-चंदौली


जनसंदेश न्यूज़
वाराणसी। मानसून सीजन में बाढ़ की संभावनाओं को देखते हुए एन.डी.आर.एफ़ के साथ प्रशासन और अन्य विभागों ने इससे निपटने के लिए कमर कस ली है। जिसके तहत एनडीआरएफ द्वारा शिविर लगाकर विभिन्न विभागों को प्रशिक्षित करने का कार्य किया जा रहा है। इसी कड़ी में बुधवार को एनडीआरएफ ने भुल्लनपुर, वाराणसी स्थित 34वीं वाहिनी पी.ए.सी के अधिकारियों, प्लाटून कमांडर और जवानों को बाढ़ से बचाव की तकनीकों को बताते हुए प्रशिक्षित किया। इस मौके पर एनडीआरएफ ने राहत बचाव कार्य के दौरान कोरोना से बचाव हेतु भी प्रशिक्षण दी। 


प्रशिक्षण के दौरान बाढ़ कंपनियों के कमाडंर समीर सौरभ ने पी.ए.सी.कार्मिकों को कोरोना माहमारी के वातावरण में बाढ़ से निपटने, विभिन्न बचाव तकनीकों, पी.पी.ई. को पहनने और उतारने के तरीके, सोशल डिस्टेंसिंग, कूड़ा प्रबंधन, और शव प्रबंधन आदि के बारे में प्रशिक्षित किया। एन.डी.आर.एफ़ टीम ने को आपदा प्रबंधन, बाढ़ व कोरोना माहमारी के दौरान विभिन्न पी.ए.सी. की बाढ़ कंपनियों को, कोरोना माहमारी के बचाव उपायों और बाढ़ के दौरान कोरोना वातावरण में राहत बचाव कार्य करने के तरीके, सोशल डिस्टेंसिंग की उपयोगिता तथा मोटर बोट से राहत बचाव के दौरान आवश्यक सुरक्षा उपाय व बचाव तरीकों के बारे में भी बताया। प्रशिक्षण कार्यक्रम में 100 से अधिक पीएसी कर्मियों ने भाग लिया।