ALL जनसंदेश एक्सक्लूसिव वाराणसी-चंदौली पूूर्वांचल इलाहाबाद लखनऊ कानपुर-गोरखपुर आगरा देश-विदेश कोविड-19/देश-विदेश मनोरंजन/लाइफस्टाइल
अयोध्या में राम मंदिर को लेकर विवादित टिप्पणी कर फंसे फ्रीलांस पत्रकार, हुए गिरफ्तार, बीते साल भी हुए थे......
August 18, 2020 • जनसंदेश न्यूज • आगरा

बीते साल सीएम योगी आदित्यनाथ पर टिप्पणी को लेकर गिरफ्तार हुए थे प्रशांत कन्नौजिया

जनसंदेश न्यूज़ 
लखनऊ। स्वतंत्र पत्रकार प्रशांत कन्नौजिया की मुश्किलें एक बार फिर से बढ़ गई है। इस बार वें सोशल मीडिया पर अयोध्या के राम मंदिर से संबंधित विवादित टिप्पणी को लेकर मुश्किल में फंस गये है। पुलिस ने मंगलवार को उनके घर से उनको गिरफ्तार कर लिया। आपको बता दें कि बीते साल वें यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ के खिलाफ विवादित टिप्पणी को लेकर जेल जा चुके है। 

फ्रीलांस पत्रकार प्रशांत कनौजिया पर आरोप है कि उन्होंने राम मंदिर को लेकर विवादित टिप्पणी की है, जिससे सांप्रदायिक सद्भाव बिगड़ सकता है। प्रशांत कनौजिया को पहले भी उत्तर प्रदेश पुलिस गिरफ्तार कर चुकी है, हालांकि बाद में उन्हें जमानत मिल गई थी।

बीते साल उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के खिलाफ ट्विटर पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने के मामले में भी प्रशांत कनौजिया को लखनऊ पुलिस ने गिरफ्तार किया था। हालांकि, यह मामला सुप्रीम कोर्ट में पहुंचने के बाद उन्हें जमानत पर रिहा कर दिया गया था। हालांकि, कोर्ट ने इसके साथ ही यह स्पष्ट भी किया कि जमानत देने का अर्थ उसकी पोस्ट अथवा उसके ट्वीट को स्वीकृति देना नहीं है। उसके खिलाफ कानून सम्मत कार्यवाही चलती रहेगी।